वैशाली। सोनपुर के काली घाट पर नमामि गंगे योजना के तहत निर्मित घाट पर रविवार को एक हादसे में जिउतिया स्नान करने गयीं महिलाएं बाल बाल बच गयीं। मिली जानकारी के अनुसार जिउतियाव्रत के दौरान नारायणी नदी में स्नान के उपरांत कुछ महिलाएं घाट पर बने छतदार किन्तु खुले घेरे में वस्त्र बदल रही थीं कि इसी बीच छत के बगल में लगा टायल्स सैंड स्टोन भरभराकर ढह गया। इस घटना से व्रती महिलाओं में भगदड़ मच गयी। हालांकि  इस हादसे में किसी के घायल होने की सूचना नहीं है। इस बीच वहां छत के बगल से बड़ी संख्या में टायल्स गिर जाने से वहां तेज आवाज सुनकर पहुंचे लोगों ने इसके निर्माण की गुणवत्ता पर सवाल  उठाए। लोगों का कहना था कि करोड़ों रुपए की लागत से बने चेंजिग रूम का सालभर के भीतर ही यह हालत हो जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। यह आकर्षक घाट अभी सोनपुर तथा बाहर से यहां  आने वाले लोगों के लिए  आकर्षण का केन्द्र है। 

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप