वैशाली। भारत सरकार के निर्देशानुसार एनडीआरएफ की ओर से जीए इंटर स्कूल, हाजीपुृर स्थित भारत स्काउट एवं गाइड के परिसर में स्काउट गाइड को आपदा प्रबंधन की महत्वपूर्ण जानकारियां दी गईं। एनडीआरएफ के इंस्पेक्टर राजन कुमार ने अपने अन्य सहयोगियों की मदद से कैडेटों को बाढ़ से बचाव, बाढ़ में फंसे हुए व्यक्तियों का रेस्क्यू करने, डूबे हुए व्यक्ति के शरीर में से पानी निकालने आदि के तरीके बताए। साथ ही सीपीआर विधि द्वारा कृत्रिम सांस देने की प्रक्रिया, हार्ट अटैक के मरीज को किस प्रकार से कम समय में मदद पहुंचाई जा सके, भूकंप की जानकारियां, हाथ टूटने, फटने, कटने पर घायल की मदद, रेल एक्सीडेंट जैसी भयानक आपदाओं से बचने की जानकारी उपलब्ध कराई एवं मॉक ड्रिल कर बताया गया।

राजन कुमार ने कैडेटों को बताया कि एनडीआरएफ टीम भी देश के विभिन्न क्षेत्रों में जहां पर आपदा आती है, वहां जाकर लोगों की मदद करती है। भारत सरकार के निर्देशानुसार सभी स्काउट गाइड के कैडेटों को आपदा प्रबंधन की जानकारियां दी जा रही हैं ताकि आपदा के समय में स्काउट गाइड के कैडेट आम लोगों की मदद कर उनकी जान बचा सकें। आपदा प्रबंधन के गुर सीखने की ट्रेनिग वैशाली जिले के 41 विद्यालयों से 182 स्काउट गाइड लीडर ले रहे हैं ।

इस प्रशिक्षण शिविर में सौरभ कुमार जितेश, विशाल, अरविद, काव्य मंगलम, गाइड कैप्टन आरती सिंह जागृति ने अपनी अहम भूमिका निभाई। जिला संगठन आयुक्त रितुराज ने कैडेटों को संबोधित करते हुए कहा कि इस प्रकार के प्रशिक्षण लेकर स्काउट गाइड निपुण होकर आपदाओं के समय हर परिस्थिति में अपने आप को व्यवस्थित कर समाज एवं देश की सेवा कर सकेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप