संवाद सूत्र, बिदुपुर (वैशाली):

पुलिस ने गत रात छापेमारी कर पानापुर दिलावरपुर पंचायत के पूर्व मुखिया पूनम देवी के पति लव सिंह की हत्या मामले में एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। बताया गया कि पकड़े गए कुणाल सिंह कई अन्य संगीन मामले का भी आरोपित है। मालूम हो कि लव कुमार सिंह की उनके घर मधुरापुर से बुलाकर गोली मारकर दिन-दहाड़े हत्या कर दी गई थी। इस मामले के आरोपित कुणाल सिंह की दो वर्षों से पुलिस तलाश कर रही थी। कई बार छापेमारी में उसे गिरफ्तार करने में पुलिस चूक गई थी।

बताया गया है कि वर्ष 2016 के पंचायत चुनाव में चुनावी रंजिश और अपना वर्चस्व कायम करने को लेकर 15 मई 2020 को लव सिंह की षड्यंत्र के तहत घर से बुलाकर गोलियों से छलनी कर दिया गया था। मृतक की पत्नी तत्कालीन मुखिया पूनम देवी ने मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। जिसमे मधुरापुर गांव के पप्पू सिंह एवं पानापुर के कुणाल सिंह सहित कई अन्य आरोपित किए गए थे। इसमें गत पंचायत चुनाव पूर्व पप्पू सिंह की गिरफ्तारी की गई थी, लेकिन कुणाल सिंह फरार चल रहा था। सूत्रों का कहना है इस पंचायत चुनाव में वह अपने उम्मीदवार के पक्ष में सक्रिय भी रहा। इस दौरान उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने कई बार छापेमारी भी की पर सफलता नहीं मिली।

थानाध्यक्ष धनंजय पांडेय ने बताया कि उसकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस पहले से ही सक्रिय थी। इसी बीच पता चला कि पुलिस से छिपकर वह गांव में ही किसी पड़ोसी के घर सोया हुआ है। इस सूचना पर सब इंस्पेक्टर यशवंत मिश्रा और जयप्रकाश सहित अन्य सशस्त्र बल जवान के साथ छापेमारी की गई। छापेमारी में कुणाल सिंह को पकड़ लिया गया। शनिवार को आवश्यक कार्रवाई के बाद उसे जेल भेज दिया गया है। कुणाल सिंह के विरुद्ध थाने में दर्ज है कई मामले : पुलिस ने बताया कि पकड़े गए कुणाल सिंह के विरुद्ध रणधीर कुमार व्यवसायी की हत्याकांड संख्या 110/2008, मुखिया पति लव सिंह हत्या कांड संख्या 172/2020 एवं विवेक शर्मा हत्या कांड संख्या 553/2021 के अलावा शराब कारोबार कांड संख्या 198/2021, 220/2021 एवं 317/2021, मारपीट कांड संख्या 510/2019 आदि पहले से दर्ज है। इसके अलावा जिले के कई थाने में भी उस पर अनेक आपराधिक मामले दर्ज हैं। उसके विरुद्ध पूर्व विधायक डा. अच्युतानंद सिंह के साथ मारपीट करने के भी आरोप है। पुलिस ने छापेमारी कर आरोपित कुणाल सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

Edited By: Jagran