वैशाली। हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेले में इस वर्ष आधुनिकता की चकाचौंध के बीच परंपरा की झलक भी दिखेगी। 32 दिनों तक इस वर्ष सरकारी स्तर पर चलने इस मेले का ऐसा आकर्षक लुक होगा कि दर्शक मुग्ध हो जाएंगे। इस मेले को विश्व के फलक पर लाए जाने का हर संभव प्रयास चल रहा है। इस बार मेले में लेजर शो का भी आयोजन होगा। प्रतिदिन मेले के मुख्य मंच पर दिखाए जाने वाले इस शो के दौरान दर्शक मेले के धार्मिक और पौराणिक इतिहास से रूबरू हो सकेंगे। मेले का सेबोनियर भी निकाला जाएगा। इस बार मेले का उद्घाटन 21 नवंबर को होगा जबकि समापन 22 दिसंबर को किया जाएगा। यह निर्णय सोनपुर अनुमंडल सभागार में सारण के डीएम सुब्रत कुमार सेन की अध्यक्षता में शनिवार को आयोजित हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेला की दूसरी बैठक के दौरान लिया गया।

मेले में इस बार वृहद स्तर पर खेलकूद प्रतियोगिता खासकर कबड्डी, क्रिकेट, वॉलीबॉल, फुटबॉल तथा राष्ट्रीय स्तर का दंगल भी होगा। देश में चल रहे भारत स्वच्छता मिशन की झलक मेले में भी दिखाई देगी। प्रयास यह होगा कि एक ही प्रकार के रंग-रोगन और साज-सज्जा में प्रदर्शनी तथा स्टाल नजर आएं। मेले के दौरान खेल तमाशा के साथ साथ बाबा हरिहर नाथ मंदिर के समीप रामायण मंचन भी होगा। इसके अलावा वाटर कै¨नग, फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता के अलावा नौका दौड़ का भी आयोजन होगा।

इस बैठक में साफ-सफाई, मेले में अबाध विद्युत आपूर्ति, सुरक्षा, स्वच्छता एवं विधि व्यवस्था संधारण को लेकर भी गहन-विचार विमर्श हुआ। स्नान घाटों पर सुरक्षा के मद्देनजर बैरिके¨डग, गोताखोर एवं एसडीआरएफ की टीम की व्यवस्था होगी। पहलेजा घाट धाम में गंगा किनारे पर्याप्त रोशनी, अस्थाई शौचालय, शुद्ध पेयजल, चें¨जग रूम तथा स्नानार्थियों की भारी भीड़ को देखते हुए दंडाधिकारी के साथ पुलिस बल की तैनाती होगी। यही व्यवस्था सोनपुर के कालीघाट, गजेंद्र मोक्ष घाट, पुल घाट तथा सवाईच घाट पर भी की जाएगी। इन घाटों पर कार्तिक पूर्णिमा के दिन श्रद्धालुओं की अपार भीड़ उमड़ती है।

डीएम श्री सेन ने संबंधित विभागों के दाधिकारियों को बैठक के दौरान यह निर्देश दिया कि सभी आवश्यक तैयारियां उद्घाटन की तिथि से पहले पूरी कर ली जाएं। साथ ही साफ सफाई पर विशेष ध्यान रखने को कहा गया। इस बीच डीएम ने कहा कि मेले को आकर्षक बनाए जाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे। आधुनिकता के साथ साथ परंपरा की झलक भी मेले में दिखाई पड़ेगी। बैठक के बीच ही यह सुझाव भी आया कि कॉफी टेबल बुक रखे जाने की भी व्यवस्था हो। इस बुक में मेले की परंपरा और इतिहास सचित्र छपे होंगे। इसी दौरान मेले के गैर सरकारी सदस्य राम विनोद ¨सह ने यह सवाल उठाया कि जब देश के एक राज्य में जली कुट्टी का आयोजन किया जाता है तब यहां घुड़दौड़ पर रोक क्यों? मेले में लगेंगे सीसी कैमरे

मेले की हर गतिविधि पर नजर रखने के लिए प्रत्येक महत्वपूर्ण स्थान पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। विधायक डॉक्टर रामानुज प्रसाद ने भी मेले से संबंधित अनेक महत्वपूर्ण सुझाव दिए। इस बैठक में डीएम श्री सेन के अलावा अपर समाहर्ता, पर्यटन विभाग के सहायक निदेशक जीवन प्रकाश पांडे, एसडीओ सुधीर कुमार, एसडीपीओ पंकज कुमार शर्मा के अलावा सोनपुर के विधायक डॉ रामानुज प्रसाद तथा गैर सरकारी सदस्यों में नगर पंचायत के अध्यक्ष अमजद हुसैन, उपाध्यक्ष पुनीता ¨सह, राम विनोद ¨सह, मंदिर न्यास समिति के सचिव विजय कुमार ¨सह लल्ला, रामबालक ¨सह, ¨बदु ¨सह, ज्ञानेंद्र कुमार ¨सह टुनटुन, लालबाबू राय तथा राजीव मुनमुन आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप