वैशाली। लालगंज थाना क्षेत्र के पुरखौली गांव में मोबाइल चोरी के नाम पर दो बच्चों को ले जाकर पूछताछ करना एवं पुलिस के हवाले करना देखते ही देखते दो पक्षों के बीच बड़े विवाद का रूप ले लिया। लालगंज पुलिस को घंटों मशक्कत करनी पड़ी। तब जाकर मामला शांत हुआ। जानकारी के अनुसार 11 जुलाई को पुरखौली निवासी महेश राय की बेटी की शादी थी। शादी में कुसदे निवासी उपेन्द्र राय का टेंट लगा था। पुरखौली निवासी स्व. लखिन्द्र पासवान का पुत्र गौतम कुमार एवं रौशन कुमार टेंट के लिए काम करने गया था। लोगों का दोनों पर गणेश राय का मोबाइल चोरी करने का शक हुआ। इसके बाद मोबाइल ट्रैकर एप के माध्यम से लोगों को उक्त लड़कों के घर में मोबाइल होने का लोकेशन आया। लोग दोनों बच्चों को टेंट मालिक के सहयोग से वहां से ले गए और पूछताछ करने लगे। इसी दौरान दूसरे पक्ष के लोगों ने लालगंज थाना को फोन किया। तत्काल पुलिस पहुंची और दोनों लड़कों को जीप में बैठाकर थाने ले जाने को निकली। गणेश राय को थाना आकर आवेदन देने को कहा। इसी दौरान जब पुलिस जीप पासवान बस्ती के निकट पहुंची तो कुछ असामाजिक तत्वों ने पुलिस गाड़ी को घेरकर दोनों बच्चे को उतार लिया। इस दौरान लोगों ने पुलिस के साथ धक्कामुक्की भी की।

इसके बाद मामले ने जातीय रंग ले लिया और पहले पक्ष के लोग दूसरे पक्ष के दरवाजे पर चढ़ गए और मारपीट पर उतारू हो गए। हालांकि मामला नहीं बढ़ा और लोग पुलिस बल एवं पुलिस गाड़ी को वहां से निकाल कर ले गए। वहीं घटना की सूचना मिलते ही लालगंज थानाध्यक्ष सुनील कुमार, एसआइ संजय कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और मामले को शांत कराया।

इसके बाद एक पक्ष से गणेश राय द्वारा मोबाइल चोरी करने का आरोप लगाते हुए स्व. लखिन्द्र पासवान के पुत्र गौतम कुमार एवं रौशन कुमार के अलावा मुखिया दिलीप पासवान समेत 12 लोगों पर नामजद एवं 150 के करीब अज्ञात लोगों के खिलाफ आवेदन दिया।

वहीं दूसरे पक्ष की ओर से भी मोबाइल चोरी का झूठा आरोप लगाते हुए बच्चों को जबरन घर से उठाकर ले जाने और पिटाई करने के साथ-साथ मोबाइल खोजने के बहाने घर में घुसकर लूटपाट करने का आरोप लगाते हुए सुनीता देवी द्वारा आवेदन दिया गया।

इधर जय हनुमान टेंट हाउस के मालिक उपेन्द्र राय द्वारा मुखिया दिलीप पासवान गुट के लोगों द्वारा मारपीट कर 50 हजार रुपये छीन लेने का आरोप लगाते हुए कई लोगों के विरुद्ध आवेदन दिया गया है। जबकि इसी मामले में पुरखौली मुखिया दिलीप पासवान ने एक अन्य आवेदन देकर कहा है कि घटना की सूचना पर वह जब घटनास्थल पर पहुंचे तो गणेश राय पक्ष के लोगों ने जातिसूचक गाली देते हुए देख लेने की धमकी देते हुए मारपीट की।

इस संबंध में थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि दोनों पक्षों के अलावा मुखिया एवं टेंट मालिक द्वारा आवेदन प्राप्त हुआ है। मामले की जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप