वैशाली। नगर के गांधी आश्रम स्थित एक क्लीनिक में एचएमएआइ की नगर इकाई की गोष्ठी हुई। गोष्ठी में उपस्थित होम्योपैथ चिकित्सकों ने बरसात के मौसम में विभिन्न प्रकार की बीमारियों की चर्चा करते हुए कहा कि होम्योपैथ दवाएं बरसाती बीमारियों में काफी कारगर होती हैं। गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए डॉक्टर विजय कुमार ने कहा कि वर्षा ऋतु में हर जगह गंदे एवं प्रदूषित पानी के फैलने से जल के साथ साथ वातावरण प्रदूषित हो जाता है, जिसके कारण विभिन्न प्रकार के रोगों का संक्रमण तेजी से फैलता है। इस ऋतु में डायरिया, टाइफाइड, पेचिश, डेंगू, सर्दी-जुकाम के साथ साथ चर्मरोग होते हैं। उन्होंने कहा कि इस मौसम में खानपान के साथ-साथ पीने के पानी की शुद्धता पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है ।घर के अंदर या बाहर जलजमाव ना हो इस पर विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए। केरोसिन तेल या कीटनाशक का छिड़काव करना आवश्यक है। गोष्ठी में उपस्थित डॉक्टर नलिनी कुमार, डॉ. बीके पांडे, डॉ. अरविद कुमार सिंह, डॉ. एनके जयसवाल डॉ. लालबाबू सिंह, डॉ. नंदेश्वर प्रसाद सिंह, डॉ. पीके चंचल, डॉ. रघुवीर शरण, डॉ. शिवा डॉ. जनार्दन प्रसाद सिंह, डॉ. डीएन पटेल, रविद्र कुमार, डॉ. मीना सिंह आदि ने अपने विचार रखे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप