वैशाली। महनार प्रखंड की हसनपुर दक्षिणी पंचायत के मुखिया मुकेश कुमार सिंह के छोटे भाई सर्वेश कुमार सिंह की कर्नाटक के हुबली में गोली मार कर हत्या कर दी गई। हत्या की खबर से पूरे परिवार में मातम का माहौल है। वहीं मुखिया ने अपने भाई की हत्या के लिए पुलिस की कार्यशैली को जिम्मेवार बताया है।

जानकारी के अनुसार हसनपुर दक्षिणी पंचायत के मुखिया मुकेश कुमार सिंह के छोटे भाई 31 वर्षीय सर्वेश कुमार सिंह हुबली में ही रहकर अपना कारोबार करते थे। बताया गया कि शनिवार की देर संध्या मोटरसाइकल सवार अपराधियों ने उन्हें गोली मार कर दी। मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि तीन मोटरसाइकल पर सवार छह नकाबपोश लोगों ने उनके भाई की गोली मार कर हत्या कर दी। सर्वेश की हत्या की खबर मिलते ही परिवार में मातम पसर गया। परिजनों की चीत्कार से पूरा माहौल गमगीन हो गया। सर्वेश चार भाइयों में तीसरे थे। उन्हें एक तीन वर्ष का पुत्र है। वहीं पत्नी गर्भवती है।

यहां यह उल्लेखनीय है कि सर्वेश कुमार सिंह पर पूर्व में भी दो बार जानलेवा हमला हुआ था, जिसमें वह बाल-बाल बच गए थे। घटना को लेकर महनार थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। मुखिया ने बताया कि एक बार हसनपुर गांव में ही बजरंगबली चौक के निकट अपराधियों ने गोली चलाई थी, जिसमें वह बाल-बाल बच गया था। मुखिया ने बताया कि उन्होंने एवं उनके भाई ने अपने ऊपर जानलेवा खतरे को लेकर प्रशासन को लिखित जानकारी देते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई थी। लेकिन उनकी गुहार को लेकर पुलिस ने कोई ध्यान नहीं दिया। मुखिया ने कहा कि यदि पुलिस ने कार्रवाई की होती तो उनके भाई की जान नहीं जाती।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप