वैशाली।

पटेढ़ी बेलसर प्रखंड की विभिन्न पंचायतों में जल जमाव से निजात को लेकर दो जिलों के अधिकारियों ने संयुक्त रूप से अभियान शुरू किया है। इसके तहत नहर प्रमंडल वैशाली और मुजफ्फरपुर के कार्यपालक अभियंता एवं अन्य अभियंताओं की टीम ने वैशाली विधायक सिद्धार्थ पटेल के साथ विभिन्न स्थलों को निरीक्षण किया। बताया गया है कि इस प्रखंड के अधिकांश हिस्से का पानी 56 आरडी मलिकपुर शाखा नहर क्रास ड्रेनेज होकर निकलती है। विधायक ने कहा कि इसके लिए फकुली के पास एक और क्रास ड्रेनेज पुल बनाने की आवश्यकता है। इस मामले को लेकर विधायक के उठाए गए सवाल पर नहर प्रमंडल वैशाली और मुजफ्फरपुर के कार्यपालक अभियंता ने अन्य अभियंताओं टीम के साथ स्थल निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में विधायक सिद्धार्थ पटेल ने बताया कि पटेढ़ी बेलसर एवं सरैया प्रखंड के कई पंचायतों के जल निकासी का यही एकमात्र माध्यम है, लेकिन इसके काफी छोटा और नीचा हो जाने के कारण इन इलाकों से तेजी के साथ जल निकासी नहीं हो पा रही है। इसके लिए इसका पुनर्निर्माण या अलग क्रास पुल बनाने की जरूरत है। स्थल निरीक्षण में अभियंताओं को इसके लिए शीघ्र कार्य कराने का निर्देश दिया गया है। निरीक्षण में पटेढ़ी बेलसर जदयू प्रखंड अध्यक्ष प्रेम निषाद, लालदेव राम, संजीत कुमार, अजीत कुमार, संजीव कुमार आदि उपस्थित थे। विधायक के साथ अभियंताओं ने जल निकासी वाले कई अन्य स्थलों का भी जायजा लिया।

वाया नदी के तटबंध का महुआ के सीओ ने किया निरीक्षण

संवाद सहयोगी, महुआ : वाया नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि को देखते हुए महुआ के अंचलाधिकारी ने कई तटबंध का निरीक्षण किया। परमानंदपुर के निकट स्थित वाया नदी के तटबंध का निरीक्षण करने पहुंचे अंचलाधिकारी अमर कुमार सिन्हा के साथ पंचायत के पूर्व मुखिया गनौर राम, चतुर्भुज साह, मनीष राज सहित अन्य लोग उपस्थित थे। इस दौरान लोगों ने बताया कि पिछले वर्ष यहां पर बांध टूट जाने से कई गांव जलमग्न हो गया था तथा महीनों पानी भरा हुआ था। ग्रामीणों ने वाया नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि की स्थिति को देखते हुए इस तटबंध की जल्द मरम्मत कराने की मांग भी की है। वहीं अंचलाधिकारी ने महुआ के विभिन्न पंचायत के होकर गुजरने वाली वाया नदी के तटबंध की स्थिति का जायजा लिया मरम्मत की बात कही।

Edited By: Jagran