वैशाली। देसरी थाना क्षेत्र के मुरौवतपुर में मंगलवार को मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई। यहां गंगा नदी में मिले एक अज्ञात व्यक्ति के शव को देसरी थाने की पुलिस की मौजूदगी में काफी दूर तक चौकीदारों ने रस्सी से बांध कर ¨खचा। हालांकि देसरी थानाध्यक्ष ने इस घटना से इंकार किया और कहा कि नदी किनारे फिसलन के कारण शव को ¨खचा गया।

जानकारी के अनुसार देसरी थाना के मुरौवतपुर काली घाट के पास मंगलवार की सुबह गंगा नदी में एक अज्ञात युवक का शव बहते हुए किनारे आ गया। जब लोगों ने शव को पानी में देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। शव नदी किनारे मिलने की सूचना मिलते ही सैकड़ों लोगों की भीड़ नदी किनारे जुट गई। शव को ¨खचकर पानी से निकाला गया। चौकीदारों ने शव को पानी से ¨खच लिया और उसे रस्सी से काफी दूर तक ¨खच कर ऊपर ले आए। जानकारी के अनुसार देसरी थाने की पुलिस की मौजूदगी में मानवता को शर्मसार कर देने वाली इस कृत्य को अंजाम दिया गया। हालांकि पुलिस इसे खारिज कर रही है और कह रही है पुलिस के आने के पहले चौकीदार ने ¨खच कर लाया।

बताया गया है कि नदी किनारे अधिक फिसलन थी जिसके कारण शव को ऊपर लाने में नहीं बन रहा था। इसके बाद चौकीदारों ने स्थानीय लोगों की मदद से रस्सी से शव को बांध कार ऊपर ¨खच लिया। देसरी थानाध्यक्ष ने शव की जांच करने के बाद कहा कि लगभग 25 से 30 वर्षीय अज्ञात युवक का शव है। उसके शरीर पर खाकी रंग का पैंट और सफेद शर्ट है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। शव को रस्सी से बांध कर पानी से खींचने की घटना पर थानाध्यक्ष ने कहा कि जब तक वे पहुंचे तब तक शव को ¨खचा जा चुका था। उन्होंने कहा कि घाट पर बाढ़ के पानी के कारण फिसलन अधिक थी। दूसरी ओर एएसपी उपेन्द्र नाथ वर्मा ने इस मामले पर कहा कि वह पूरे मामले की जांच कराई जाएगी एवं जांच रिपोर्ट मिलने पर उचित करवाई की जाएगी।