फोटो- 40

- उपमुख्यमंत्री ने कहा- विरोध करने वालों को देखना चाहिए समर्थन में उमड़ा जनसमूह

- नागरिकता संशोधन कानून प्रताड़ित लोगों को नागरिकता देने के लिए है, छीनने के लिए नहीं जागरण संवाददाता, हाजीपुर : उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि बिहार समेत पूरे देश में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) लागू किया जाएगा। विरोध करने वालों को समर्थन में उमड़े इतना बड़े जनसमूह को देखना चाहिए। विपक्ष सीएए के विरोध में 50 हजार की रैली करेगा तो हम समर्थन में दो लाख लोगों की रैली करेंगे। यह कानून किसी की नागरिकता छीनने का नहीं बल्कि प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का कानून है।

सुशील मोदी ने यें बातें केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की मौजूदगी में गुरुवार को वैशाली के खरौना पोखर स्थित संग्रहालय मैदान में आयोजित जन जागरण सभा में कहीं।

सुशील मोदी ने कहा कि कांग्रेस और राजद को ओवैसी एवं एमआइएम का डर है। आरक्षण का विरोध करने वाले आज जहां हैं, वही हाल एनआरसी का विरोध करने वालों का होगा।

उन्होंने कहा कि 1951 में पाकिस्तान में हिदुओं की संख्या 13.5 फीसद थी जो अब घटकर मात्र 2 फीसद रह गई है। वहीं बंगलादेश में 22 फीसद से घटकर 5 फीसद हिदू रह गए हैं। वहां हिदुओं का हाल इतना बुरा है कि वे दीपावली मनाना तो दूर पूजा-पाठ तक नहीं कर सकते हैं। पाकिस्तान में जबरन धर्मांतरण कराया गया। ननकाना साहेब में जो हाल में हुआ वह तो सबको पता है। हमने भारत को पंथ निरपेक्ष मुल्क बनाया है। यहां एपीजे अबुल कलाम समेत कई मुस्लिम राष्ट्रपति बने। पाक में कोई हिदू और सिख सरकारी नौकर तक नहीं बन सकता है। धार्मिक प्रताड़ना के कारण दूसरे मुल्कों से लौटे लोगों को भारत की नागरिकता देने के लिए ही सीएए बनाया गया है। इस मुद्दे पर जितना विरोध होगा, हम उतने ही मजबूत होंगे। सुशील मोदी ने मुस्लिम भाइयों से को विश्वास दिलाया कि किसी को देश से निकाला नहीं जाएगा। किसी की भी नागरिकता नहीं छीनी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस