वैशाली [जेएनएन]। केंद्रीय खाद्य आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के मंत्री और लोजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष रामविलास पासवान गुरुवार को मोदी सरकार के चार वर्ष की उपलब्धियों को बताने अपने संसदीय क्षेत्र हाजीपुर आये थे, जहां कार्यकर्ताओं ने उन्‍हें काला झंडा दिखाया। कार्यकर्ताओं ने उनके ऊपर उपेक्षा का आरोप लगाया।

जानकारी के अनुसार, संयुक्‍त संघर्ष मोर्चा के बैनर तले कार्यकर्ता हाजीपुर-पटना रोड में उस होटल से थोड़ी दूर पर काला झंडा लिए खड़े थे, जहां पासवान मीडिया से बात करने वाले थे। जैसे ही पासवान का काफिला गुजरा, संयुक्त संघर्ष मोर्चा से जुड़े लोगों ने काला झंडा दिखाया। हालांकि, इस संबंध में जानकारी मिलते ही एएसपी अजय कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। लेकिन तब तक झंडा दिखाने वाले वहां से हट चुके थे।

कार्यकर्ताओं का कहना था कि चार सालों में केंद्रीय मंत्री ने हाजीपुर के विकास के लिए कोई उल्लेखनीय कार्य नही किया है। इसके पहले पासवान जब भी केंद्र में मंत्री रहे, राष्ट्रीय स्तर पर हाजीपुर की पहचान रही। लेकिन अब वैसा नहीं है। न तो एक भी बेरोजगार को रोजगार मिला और न ही विकास का कोई काम हुआ।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस