जागरण संवाददाता, हाजीपुर :

हाजीपुर नगर के अनवरपुर में स्थित आदित्य ज्वेलर्स में शनिवार की देर शाम पौने दो करोड़ रुपये से अधिक के जेवरात एवं नगद रुपये लूट की घटना के विरोध में सोमवार को बिहार वैश्य समाज के प्रतिनिधियों ने वैशाली के पुलिस कप्तान से मिलकर ज्ञापन सौंपा। समाज के अध्यक्ष राजन कुमार साह उर्फ राजन कुंद्रा के नेतृत्व में सौंपे गए ज्ञापन में कहा गया है कि अपराधियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए और लूटे गए आभूषण और नकद रुपये की रिकवरी की जाए।

कुंद्रा ने कहा है कि अपराधी अगर गिरफ्तार नहीं होते हैं तो समाज को मजबूरन आंदोलन का रास्ता अपनाना होगा। प्रतिनिधिमंडल में महासचिव विक्रम चौधरी, कोषाध्यक्ष डा. एसके विद्यार्थी, ललन साह, कृष्ण भगवान सोनी, राजेश कुमार चौधरी, विक्रम चौधरी आदि शामिल थे। इस मौके पर वैश्य महासभा के प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने कहा कि पिछले कुछ समय से वैशाली जिले के विभिन्न प्रखंडों में लगातार स्वर्ण समाज को अपराधी टारगेट कर रहे हैं और लूट की घटना को अंजाम दे रहे हैं।

कहा गया है कि इस पर अगर जल्द से जल्द लगाम नहीं लगा तो अपराधियों का मनोबल और बढ़ेगा। एक करोड़ 77 लाख रुपये के जेवरात एवं नगद रुपये लूट की घटना से जिले के वैश्य समाज के लोगों में काफी आक्रोश है और डर का माहौल बन गया है। प्रशासन पर अविलंब कार्रवाई करे ताकि आगे स्वर्ण व्यवसायियों को किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हो। हाल की आपराधिक घटनाओं से व्यवसायियों में दहशत का माहौल है। इस दहशत के माहौल को खत्म करने की आवश्यकता है। स्वर्ण व्यवसायियों ने रविवार को बंद रखी थी अपनी दुकानें

आदित्य ज्वेलर्स में हुई लूट की घटना के विरोध में रविवार को सोने-चांदी की दुकानें बंद रहीं थी। लूट की घटना पर चिता का इजहार करते हुए स्वर्ण व्यवसायियों का कहना था कि धनतेरस समेत अभी त्योहार के सीजन में इतनी बड़ी लूट की घटना को अंजाम देने के बाद स्वर्ण व्यवसायी में डर का माहौल बन गया है। प्रशासन अविलंब बाजार में सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करें ताकि व्यवसायी बिना भय के अपना व्यापार कर सकें।

Edited By: Jagran