सुपौल। दैनिक जागरण द्वारा सोमवार को आयोजित सर्व धर्म प्रार्थना सभा के दौरान सुपौल दो मिनट के लिए ठहर सा गया जब सुबह 11 बजे हजारों सिर श्रद्धांजलि देने के लिए एक साथ झुके। जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक से लेकर आम शहरी ने दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि दी और कोरोना से जूझ रहे लोगों के स्वास्थ्य लाभ की कामना के साथ कोरोना पीड़ितों की सेवा में जुटे स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर की सलामती की कामना की।

समाहरणालय में जैसे ही घड़ी ने 11 बजने का एलान किया कर्मी से लेकर अधिकारी तक अपनी जगह से निकलकर पंक्ति में खड़े होकर मौन धारण कर लिया। सबने मौन श्रद्धांजलि दी। जिलाधिकारी महेंद्र कुमार ने श्रद्धांजलि देने के बाद कहा कि दैनिक जागरण की इस पहल की सराहना के लिए शब्द कम पड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि परिस्थितिवश कोरोना से जान गंवाने वाले कई लोगों को मुखाग्नि भी नसीब नहीं हो सकी। ऐसे लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिए इस अखबार ने बेहतरीन प्रयास किया है। लोगों की प्रार्थना से उनलोगों का आत्मबल तो बढ़ेगा ही जो कोरोना से जूझ रहे हैं साथ ही उन स्वास्थ्य कर्मियों की भी हौसला आफजाई होगी जो इनका इलाज कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना से और जान नहीं जाए इसके लिए आवश्यक है कि सभी लोग वैक्सीन लें। कोरोना का यह टीका पूर्ण सुरक्षित है। टीका लेने के बाद कोरोना का खतरा काफी कम हो जाता है। एसपी मनोज कुमार ने कहा कि दैनिक जागरण सामाजिक सरोकारों का पूरा ख्याल रखता है। आज जब पूरी दुनिया कोरोना से पीड़ित है, लोग जान गंवा रहे हैं ऐसे में सर्व धर्म प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाना इस अखबार की विशिष्टता को दर्शाता है। कोरोना और अधिक परेशान नहीं करे इसके लिए लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए। जिलाधिकारी के अलावा एडीएम विदुभूषण चौधरी, डीडीसी मुकेश कुमार सिन्हा, पंचायत राज पदाधिकारी, जिला सूचना एवं जन संपर्क पदाधिकारी सहित अन्य कर्मियों ने श्रद्धांजलि दी। पुलिस लाइन में डीएसपी मुख्यालय, सार्जेंट मेजर सहित जवानों ने श्रद्धा में सिर झुकाए। शहर के व्यापारियों ने अपने घरों, व्यापारिक संस्थानों में दो मिनट का मौन रखा। कोसी रक्तवीर सेवा संगठन के सदस्यों ने अपने-अपने घरों पर, अभाविप के कार्यालय में, सभी थानों में श्रद्धांजलि दी गई। राधेश्याम टीचर्स ट्रेनिग कॉलेज में कॉलेज के प्राचार्य डॉ. राधेश्याम यादव के नेतृत्व में सर्व धर्म प्रार्थना सभा आयोजित की गई। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यह बेहद भावुक क्षण था। दैनिक जागरण के प्रयास से एक साथ काफी संख्या में लोगों ने श्रद्धांजलि दी। इस तरह के कार्यक्रम से मानवता का संदेश जाता है। श्रद्धांजलि देनेवालों में कॉलेज के प्राध्यापक, कर्मी एवं छात्र शामिल थे। काशी विद्या निकेतन, दिल्ली पब्लिक स्कूल सहित सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों, स्वयंसेवी संगठनों के कार्यालयों में भी श्रद्धांजलि दी गई। कहीं भजन कीर्तन का आयोजन किया गया तो कहीं लोगों ने हवन कराए।

Edited By: Jagran