संवाद सूत्र, किशनपुर (सुपौल): भले ही सरकार कोरोना के कहर से बचाने के लिए नाइट क‌र्फ्यू , स्कूल कालेज एवं माल बंद कर सरकारी तथा गैर सरकारी संस्थानों में आगंतुक के प्रवेश पर रोक के साथ 50 प्रतिशत के दर पर कर्मी के आने का प्रावधान किया है। ताकि कोरोना की तीसरी लहर से बचा जा सके। क्योंकि काफी तेजी से फैलने वाला कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन बिहार में भी दस्तक दे चुका है। इससे बचने के लिए सरकार द्वारा गाइड लाइन जारी किया गया है ताकि लोग संयम व सतर्क रह सकें। जहां दुकानों पर मास्क व सामाजिक दूरी का पालन करने के साथ सैनेटाइजर रखने का आदेश दिया जा चुका है। वहीं बिना मास्क चलने वालों से जुर्माना वसूलने का आदेश है। लेकिन हाट, बाजार आने वाले लोग न तो मास्क ही लगा रहे हैं और ना ही शारीरिक दूरी का पालन कर रहे हैं। ऐसा ही नजारा शुक्रवार को किसनपुर हाट में देखने को मिला। जहां दूरी तो दूर किसी ने भी मास्क तक पहना था। ऐसे में सरकार के गाइड लाइन का बाजार आने वाले खुलेआम धज्जियां उड़ाते दिखे। इससे लगता है कि संबंधित अधिकारी इस तरफ कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। जिसके चलते लोग कोरोना संक्रमण से अंजान हो बिना मास्क व सामाजिक दूरी का पालन किए बगैर हर जगह घूम रहे हैं। वहीं बाजार स्थित अधिकतर दुकानों पर भी न तो सामाजिक दूरी का पालन हो रहा है और ना ही काउंटर पर सैनेटाइजर दिखता है। यदि इस तरफ ध्यान नहीं दिया जाता है तो यहां के लोगों को भी कोरोना के कहर से दो चार होना पड़ सकता है।

Edited By: Jagran