संवाद सूत्र, सरायगढ़(सुपौल): प्रखंड पंचायत समिति सरायगढ़-भपटियाही की बैठक प्रखंड के सभागार में सोमवार को प्रमुख विजय कुमार यादव की अध्यक्षता में की गई। बैठक में बीआरजीएफ योजना, मनरेगा योजना, आंगनबाड़ी भवन निर्माण कार्य, शिक्षा एवं भवन, स्वास्थ्य, चापाकल, नलकूप सहित अन्य विषयों पर विस्तृत चर्चा कर आवश्यक निर्णय लिए गए। बैठक प्रारंभ करते प्रखंड विकास पदाधिकारी सह कार्यपालक पदाधिकारी अरविद कुमार ने कहा कि वर्ष 2019 के समापन तथा वर्ष 2020 के आगमन से ठीक पहले पंचायत समिति की बैठक में आगे की योजनाओं पर विस्तृत रूप से चर्चा कर मूर्त रूप दिए जाने की जरूरत है। उन्होंने बैठक में उपस्थित जनप्रतिनिधियों से कहा कि सभी मिलकर आगे के वर्ष में यदि ठोस प्रयास करें तो प्रखंड विकास के रास्ते पर काफी आगे बढ़ेगा। उन्होंने बैठक में सभी बिदुओं के महत्वपूर्ण पक्षों पर प्रकाश डाला। प्रमुख ने उपस्थित सदस्यों का अभिवादन करते कहा कि पिछले वर्ष हम सभी के प्रयास से प्रखंड में कई कार्य हुए और कुछ कार्य अधूरे हैं। ऐसे सभी कार्यों को नए कार्य योजना के साथ आगे के वर्ष में हम पूरा करें यही हमारी उपलब्धि होगी। बैठक में बोलते हुए पूर्व प्रमुख सह पंचायत समिति सदस्य शिवकुमार, समिति सदस्य इंद्रकला देवी, कमलेश सिंह पवन, गौतम कुमार, रमेश कुमार आदि ने मनरेगा, बीआरजीएफ तथा आंगनबाड़ी को लेकर कई सवाल उठाए तथा उसका समाधान का अनुरोध किया। समिति सदस्य शिव कुमार ने कहा कि चाहे जैसे भी हो प्रखंड क्षेत्र के हर एक जगह पर सरकारी कर्मी जनप्रतिनिधियों के साथ मिलकर विकास कार्यों को तेज करें। इंद्रकला देवी ने पूरे प्रखंड क्षेत्र में चलाए गए योजना के बारे में विस्तृत जानकारी मांगी। जिला परिषद सदस्य शत्रुघ्न प्रसाद मेहता ने कहा कि नेशनल हाईवे के बगल में जिला परिषद की जमीन को मनरेगा योजना से भराया जाए ताकि उस पर यात्रियों के लिए छतदार चबूतरा तथा शौचालय का निर्माण कराया जा सके। गौतम कुमार ने आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 35 को भवन रहने के बाद भी सेविका द्वारा अपने घर में चलाए जाने पर कड़ी आपत्ति व्यक्त की तथा इस तरह के सभी केंद्रों को सरकारी भवन में चलाने का अनुरोध बाल विकास परियोजना पदाधिकारी से किया। सीडीपीओ ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र भवन निर्माण के लिए प्रयास जारी है और जल्द ही भवन ही आंगनबाड़ी केंद्रों का भवन बनाया जाएगा। बैठक में मुखिया राजकुमार यादव ने मनरेगा योजना में शिथिलता पर नाराजगी व्यक्त करते हुए इसे समय से संचालित करने का अनुरोध किया। बैठक में अंचलाधिकारी ने कहा कि लोगों को जमाबंदी निर्धारण कराने तथा रसीद कटवाने में जो भी समस्याएं हो रही है उसका शीघ्र निदान किया जाएगा। प्रखंड कृषि पदाधिकारी ने जनप्रतिनिधियों से अनुरोध किया कि अधिक से अधिक किसानों को सरकारी सहायता लेने के लिए प्रेरित करें तथा ऑनलाइन आवेदन भरवाया जाय। समिति सदस्य कमलेश सिंह पवन ने कोसी प्रभावित इलाके के लोगों को बकाए फसल क्षति तथा अन्य क्षति की तत्काल भरपाई की मांग की। बैठक में सर्वसम्मति से लेकर आगामी वार्षिक कार्य योजना की स्वीकृति दी गई।

बैठक में पंजाब नेशनल बैंक शाखा प्रबंधक डी.आर प्रसाद, मनरेगा के जेई रेजा इकबाल, जिला परिषद सदस्य शत्रुघ्न प्रसाद मेहता, महादेव यादव, मुखिया बीवी नसीमा खातून, सतीश कुमार, निर्मला देवी, अवधेश प्रसाद साह, सुनीता देवी, सुमित्रा देवी, नीलम मेहता, श्याम यादव, कारी राम, पन्ना देवी, रीता देवी, बीबी खातून, बीबी बदरू निशा, कनीय अभियंता राहुल कुमार, प्रमोद ब्रह्मचारी, मुखिया श्याम यादव सहित पंचायत समिति सदस्य, रोजगार सेवक, विकास मित्र आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस