संवाद सूत्र, त्रिवेणीगंज(सुपौल): प्रखंड क्षेत्र के बाजितपुर गांव स्थित मां दुर्गा मंदिर पर भूतपूर्व सैनिक राजेश्वर सिंह, चंद्रशोभा देवी के द्वारा दी गई संगमरमर के भव्य प्रतिमा की स्थापना(प्राण प्रतिष्ठा) को लेकर बुधवार से कलश यात्रा के साथ तीन दिवसीय महायज्ञ शुरू हुआ। इस दौरान भक्तों द्वारा लगाये गये जयकारे से पूरा क्षेत्र गुंजायमान हो उठा। बैंडबाजे के धुन पर भक्त जमकर नाचे। महायज्ञ को लेकर भक्तों में भारी उत्साह दिखा। यज्ञ मंडप को दुल्हन की तरह सजाया गया है। विभिन्न मार्गो से होते हुए कलश यात्रा लौट कर मां जीवनदायनी मंदिर पर पहुंची। यहां मां के दर्शन के बाद भक्तों ने कलश में जल भरा और नाचते गाते मां के जयकारे लगाते लोग वापस यज्ञ स्थल पर पहुंचे। यहां सुखपुर के आचार्य वैदिक सोनू कुमार झा, पंडित चंद्रशेखर झा, अजित झा, नटवर झा, मधुकांत झा के द्वारा मंत्रोच्चार के बीच कलश स्थापना की गयी। इसके बाद यज्ञ शुरू हुआ। आचार्य ने बताया कि बुधवार से यज्ञ की शुरुआत, कलश यात्रा, मंडप पूजन,अग्नि स्थापना, जलाधिवास प्रतिमा से हुई है। यज्ञ के अंतिम दिन महाआरती के साथ मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा, यज्ञ की पूर्णाहुति होगी। लोगों ने यज्ञ मंडप की परिक्रमा कर परिवार के सुख समृद्धि की कामना की। इस मौके पर नवीन कुमार सिंह, खगेन्द्र बहादुर सिंह, सुधीर सिंह, सत्येंद्र सिंह, राजेश्वर सिंह, संजीव सिंह, जगदीश सिंह, छोटू सिंह, रूपेश सिंह, प्रवीण सिंह, अनिल कुमार सिंह, साहेब सिंह आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप