संवाद सूत्र, छातापुर(सुपौल): प्रखंड मुख्यालय स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का बुधवार को जिलाधिकारी के आदेश पर डीसीएलआर त्रिवेणीगंज रोजी कुमारी व बीडीओ अजीत कुमार ¨सह ने संयुक्त रूप से औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान केन्द्र परिसर में साफ-सफाई की बदतर व्यवस्था को देखकर पदाधिकारी द्वय ने संचालक को कड़ी फटकार लगाते हुए व्यवस्था में सुधार लाने का निर्देश दिया। इसके अलावा प्रसव गृह, बेड, प्रसव गृह की साफ सफाई का जायजा लिया। स्थल पर मौजूद प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ.एस एम चौधरी ने बताया कि यहां की मूल समस्या जगह की कमी है। पर्ची यहां कटता है एवं मरीज को रेफरल हॉस्पिटल में देखा जाता है। जिस कारण रोगियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। केंद्र को मात्र 22 बेड है। जबकि यहां प्रतिदिन भर्ती मरीजों की संख्या 30 से 40 तक रहती है। इसके अलावा अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मियों का आधा दर्जन पद रिक्त रहने से मरीजों की उचित देखरेख एक बड़ी समस्या बनती जा रही है। यही हाल स्वास्थ्य कर्मियों के आवासीय भवनों का है। इसके बाद पदाधिकारी द्वय ने रेफरल अस्पताल पहुंचकर दवा वितरण केन्द्र, दवाई स्टोर, एक्सरे रूम सहित रेफरल भवन का जायजा लिया। जांच के संदर्भ में डीसीएलआर ने बताया कि वस्तु स्थिति व जांच प्रतिवेदन जिलाधिकारी को सौंप दिया जाएगा।

Posted By: Jagran