सिवान। प्रखंड के कबीरपुर में स्थित मदरसा इस्लामिया में रविवार को शिक्षक बहाली के लिए निर्धारित साक्षात्कार नहीं होने पर वहां पहुंचे अभ्यर्थियों ने जमकर हंगामा किया। वहां मौजूद मदरसा प्राचार्य ने बहाली से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी से इंकार करते हुए हंगामा कर रहे लोगों को समझा कर शांत कराया। बताते हैं कि मदरसा इस्लामिया कबीरपुर के सचिव मुलाजिम मियां द्वारा एक उर्दू अखबार में इश्तहार प्रकाशित कराया गया था। इसमें कहा गया था कि मदरसा में इंटर प्रशिक्षित स्वीकृत पद रिक्त है। इसे भरने के लिए 30 जून तक सचिव मदरसा इस्लामिया कबीरपुर के पता पर आवेदन पत्र मांगा गया था। इस पद पर बहाली के लिए मदरसा परिसर में ही अभ्यर्थियों के साक्षात्कार की तिथि 5 जुलाई निर्धारित की गई थी। साक्षात्कार के दिन काफी संख्या में अभ्यर्थी यहां पहुंचे थे, लेकिन उन्हें बताया गया कि मदरसा में कोई बहाली नहीं होनी है। वहां पहुंचे कई युवकों के हाथ में आवेदन पत्र भी थे। विकास कुमार साह ने कहा कि वह भी इस पद के लिए आवेदन डाक से भेजा था, लेकिन यहां कोई बहाली नहीं है बता कर आवेदन वापस कर दिया गया। उसने कहा कि सच्चाई क्या है इसकी जांच होनी चाहिए। अगर बहाली है तो उसे रद किया जाए। इसी तरह वहां पहुंचे दूसरे अभ्यर्थी विजय यादव ने अखबार में निकाले गए विज्ञापन को दिखाते हुए कि कहा कि जून महीने में इस मदरसा में शिक्षक की बहाली के लिए विज्ञापन निकाला गया था, लेकिन जब आवेदन लेकर संपर्क किया गया तो मदरसा में आवेदन लेने से इंकार कर दिया गया। कहा गया कि बहाली नहीं होनी है। वहीं इस मदरसा के प्राचार्य रहमत अली ने कहा कि उन्हें इस मदरसा बहाली से संबंधित किसी बात की जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि वे इस बारे कुछ नहीं जानते हैं।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस