सिवान । सरकार द्वारा आधार कार्ड की तरह सभी दिव्यांगों को जारी की गई यूनिक डिसेबिलिटी आइडी के उपयोग को जिले के 292 दिव्यांगों ने ऑनलाइन आवेदन कर दिया है। जिनका कार्ड बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। यह आइडी एक तरह का डिजिटल नंबर होगा, जिसकी मदद से दिव्यांग केंद्र और राज्य सरकार की सभी सेवाओं का लाभ उठा पाएंगे। इस आइडी के बनने से योजनाओं का लाभ दिव्यांगों को सीधे तौर पर मिल सकेगा और फर्जी कार्ड बनाने पर भी लगाम लग सकेगी। यूनिक कार्ड बनने के बाद कई फर्जी दिव्यांग सरकार की योजनाओं का लाभ भी नहीं उठा

सकेंगे। दिव्यांग की पूरी जानकारी ऑनलाइन होने से फर्जीवाड़ा भी रुक सकेगा। दिव्यांगों को दिए जाने वाले यूनिक कार्ड को आधार नंबर से लिक किया जाएगा। जिन दिव्यांगों के पास किसी कारण से आधार कार्ड नहीं होगा, उनके प्रमाणपत्र में इसका कारण लिखा होगा। यूडीआइडी की

अधिकृत वेबसाइट पर भी दिव्यांग आवेदन कर सकेंगे। कहते हैं अधिकारी

यूनिक डिसेबिलिटी आइडी के लिए दिव्यांगों ऑनलाइन कर रहे हैं। इसके बाद उनका कार्ड बनने की प्रकिया शुरू होगी। इसके लिए ट्रेनिग भी होनी वाली है।

डॉ. अशेष कुमार सिविल सर्जन सिवान।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस