सिवान [जेएनएन]। इराक के मोसुल में मारे गए 39 भारतीयों में से छह बिहार के सिवान के रहने वाले थे। इनमें से पांच के शव का अवशेष मंगलवार की अल सुबह ढाई बजे पुलिस लाइन में लाया गया। जहां डीएम महेंद्र कुमार, एसपी नवीनचंद्र झा समेत सभी ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

इसके बाद जब पारी पारी से मृतकों के परिजनों के बीच शव-अवशेष को सिपुर्द किया जा रहा था तो दो लोगों ने परिजनों ने शव को लेने से इंकार कर दिया। सुनील कुमार कुशवाहा के परिजनों ने उनके अवशेष लेने से इन्कार कर दिया। इन्होंने वहां मौजूद अधिकारियों से कहा कि जब तक सरकार मांग नहीं पूरा करती है तब ताबूत को नहीं उठने देंगे। उसके बाद अदालत सिंह के परिजन भी इसकी मांग करने लगे।

दोनों मृतकों के परिजनों का कहना था कि बिहार सरकार ने परिवार वालों को अभी तक मुआवजा देने का ऐलान भी नहीं किया है। सुनील कुशवाहा की पत्नी पूनम देवी ने कहा कि उनके दो छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनकी उम्र क्रमश: छह साल और आठ साल है। पति के मौत के बाद उन्हें परिवार चलाने में काफी दिक्कत हो रही हैं। जब तक उन्हें नौकरी नहीं मिल जाती है तब तक वह अपने पति के अवशेष को स्वीकार नहीं करेंगी।

दूसरी तरफ अदालत सिंह के परिजनों ने भी  अवशेष को ले जाने से इन्कार कर दिया और पंजाब सरकार के तर्ज पर मुआवजा की मांग करने लगे। मामले को बढ़ते देख डीएम महेंद्र कुमार और एसपी नवीनचंद्र झा ने दोनों परिवारों के परिजनों से पुलिस लाइन कार्यालय में आधा घंटा तक बात की एवं अवशेष का अपमान नहीं करने की बात कही।

इन्होंने परिजनों से कहा कि  आपकी जो भी मांग है उसको लिखित में दीजिए उसकी मांग सरकार से हम भी करेंगे। इन्होंने लगभग आधा घंटा से ज्यादा परिजनों को समझाया तब जा कर परिजन आश्वासन के बाद अवशेष लेने के लिए दोनों मृतकों के परिजन राजी हुए। सुनील की पत्नी ने बताया कि डीएम ने आश्वासन दिया है कि बच्चों को जिस विद्यालय में पढ़ाने की  इच्छा है पढ़ाइये प्रशासन मदद करेगा।

आंदर एवं मैरवा बीडीओ अवशेष को लेकर पहुंचे उनके घर

पुलिस लाइन में श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद मृत युवकों के शव  के अवशेष को आंदर बीडीओ राकेश कुमार चौबे एवं आंदर प्रभाग के इंस्पेक्टर अरङ्क्षवद कुमार, आंदर प्रखंड के असांव थाना के सहसरांव निवासी संतोष कुमार सिंह एवं विद्याभूषण तिवारी के अवशेष को पुलिस लाइन से लेकर उनके पैतृक आवास पहुंचे। मैरवा बीडीओ प्रशांत कुमार एवं मैरवा प्रभाग के इंस्पेक्टर अरुण कुमार मैरवा के सिसवां खुर्द निवासी अदालत सिंह, सिंचाई कॉलोनी निवासी सुनील कुमार एवं हरपुर निवासी धर्मेंद्र कुमार का अवशेष लेकर उनके पैतृक गांव पहुंचे जहां से उनके अंतिम संस्कार के लिए आंदर के पतार के रकौली घाट एवं मैरवा के दरौली घाट पर किया गया।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस