सिवान। पैगंबर हजरत इब्राहिम अलैहेस्सलाम की सुन्नत शनिवार को मुसलमानों ने अल्लाह की राह में जानवरों की कुर्बानी देकर अदा की। इसके पहले विभिन्न ईदगाहों में ईद-उल-अज्हा की दो रेकात वाजिब नमाज पढ़ी गई। खुतबा के दौरान हजरत इब्राहिम के त्याग एवं बलिदान और कुर्बानी की फजीलत की इमाम ने विस्तार से बयान किया।

नमाज के अंत मे शांति सौहार्द की दुआएं की गईं। एक-दूसरे से गले लग कर बकरीद की मुबारक बाद दी गई। बभनौली, कोल्हुआ दरगाह, इंग्लिश, लेभरी, डोमडीह ईदगाह और स्टेशन चौक बड़ी मस्जिद समेत विभिन्न गांव में स्थित ईदगाह और मस्जिदों में ईद उल अज्हा की नमाज अदा की गई। शांति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में त्यौहार संपन्न कराने के लिए प्रशासनिक व्यवस्था चुस्त दुरुस्त रही। ईदगाह के बाहर नमाज के समय पुलिस की तैनात थी। तीन दिनों तक यह त्योहार मनाया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप