संसू, हुसैनगंज (सिवान) : थाना क्षेत्र के हथौड़ा टोले सिरकटही में 21 जून को भूमि विवाद को लेकर हुई मारपीट में एक पक्ष के गोपाल राम तथा उनके पुत्र परमा राम घायल हो गए थे। घायल गोपाल राम की स्थिति गंभीर होने के कारण उनका इलाज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां स्थिति गंभीर होने के कारण चिकित्सक द्वारा पीएमसीएच रेफर कर दिया गया था, लेकिन स्वजन घायल का इलाज सिवान के एक निजी अस्पताल में करा रहे थे। इलाज के दौरान गोपाल राम की मौत सोमवार की सुबह हो गई। इसकी सूचना मिलते ही स्वजनों में कोहराम मच गया। मृतक की पत्नी कुलवंती देवी सहित अन्य स्वजनों के चीत्कार से माहौल गमगीन हो गया। मृतक को चार पुत्र परमा नंद राम, बाबूलाल राम, भवसागर राम, रामसागर राम और दो पुत्री है। सभी की शादी हो चुकी है। गोपाल राम दैनिक मजदूरी करते कर परिवार का खर्च चलाते थे। घटना की सूचना मिलते ही मुखिया विजय चौधरी ने शोक संतप्त परिवार से मिलकर संवेदना व्यक्त की।

घरेलू भूमि को ले पड़ोसी से था विवाद :

गोपाल राम को पड़ोसी सुरेश राम से भूमि विवाद चल रहा था। परमा राम ने बताया कि मेरे घर के उत्तर दिशा में मेरा खाली जमीन थी जिसपर मैं अपनी दीवार खड़ा कर रहा था। इसे लेकर मुखिया द्वारा पंचायत बुलाई गई थी। जिसका निर्णय 27 जून को होना था। इसी बीच जबरन जमीन कब्जा करने की नीयत से मेरा दीवार गिरा दिया गया। जब मेरे पिता मना किए तो कुदाल से सिर पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया गया था।

पत्नी ने 13 लोगों को किया है हत्यारोपित

मृतक गोपाल राम की पत्नी कुलवंती देवी ने थाने में आवेदन देते हुए 13 लोगों पर पति की हत्या करने का आरोप लगाया है। थानाध्यक्ष रामबालक यादव ने बताया कि पीड़िता के आवेदन के आधार पर किशनाथ राम, सुरेश राम, लालबाबू राम, लालबहादुर राम, श्यामदेव राम, लालदेव राम, संदीप राम, राजू राम, रिझु राम, सूरज कुमार, सोनू कुमार,पु नीत कुमार व धनंजय राम के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Jagran