सिवान। शराब बंदी लागू किये जाने के बावजूद भी जिले में अवैध शराब का धंधा जोरों पर है। पुलिस के लाख प्रयास के बाद भी बॉर्डर से शराब की खेप मुख्यालय तक पहुंच जा रही है और इसकी भनक तक नहीं लग रही है। बॉर्डर पर कहीं ना कहीं वाहनों की जांच में लापरवाही बरतने का ही एक प्रमाण सोमवार की देर रात मिला। मुफस्सिल थाना की गश्त दल ने शराब से लदे एक ट्रक को जब्त किया। जब्त ट्रक से 430 कॉर्टन विदेशी शराब को बरामद किया गया। इनमें 20640 बोतल थे। इसकी बाजार कीमत लगभग 40 लाख रुपये के करीब आंकी गई है। इस मामले में भी ट्रक ड्राइवर पुलिस को देख फरार हो गया। ऐसे में शराब की इतनी बड़ी खेप के पकड़े जाने का यह पहला मामला नहीं है। इसके पूर्व भी शराब की गाड़ियों को पकड़ा गया,बावजूद इसके जिले में शराब बिक्री चोरी छुप कर धंधेबाजों द्वारा की जा रही है। जिसका प्रमाण पुलिस की कार्रवाई में पकड़े गए धंधेबाजों से मिलता है। जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र महुआरी बलुआ के पास एक ट्रक से शराब उत्तर जा रहा था तभी पुलिस की गाड़ी देखकर धंधेबाज और चालक गाड़ी छोड़कर भागने लगे। चारों तरफ मक्का के खेत का फायदा उठाकर धंधेबाज उसमें छिप गए। ट्रक की जब जांच की गई तो उसमें शराब के कॉर्टन बरामद किए गए। इस मामले में एसपी नवीन चंद्र झा ने बताया कि रात्रि में गश्त दल ने यूपी नंबर का एक ट्रक पकड़ा जिसमें 430 कॉर्टन में 20640 बोतल विदेश शराब था। शराब के धंधेबाजों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी के निर्देश दिए गए हैं।

Posted By: Jagran