सीतामढ़ी। चोरौत में बिजली की सुविधा उपलब्ध कराने को लेकर बुधवार को अनुसुचित बस्ती के लोग सड़क पर उतर आए। अनुसूचित बस्ती मुसहर टोल के लोगों ने बांस-बल्ला लगा व टायर जला चोरौत-साहरघाट पथ को जाम कर घंटों बवाल काटा। इस दौरान लोगों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। आक्रोशित लोगों का कहना था कि चारों ओर बिजली लगाने का काम चल रहा है। लेकिन, मुसहरी टोल में आज तक पोल भी नहीं गाड़ा गया। मुसहर समाज के लोगों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। इस कारण यहां के लोग आज भी ढिबरी युग में जीने को मजबूर हैं। मालूम हो कि यह बस्ती चोरौत उत्तरी पंचायत के वार्ड 9 अंतर्गत है। चोरौत-साहरघाट पथ करीब चार घंटों तक जाम रहा। जाम के दौरान दोपहिया वाहन वाले दूसरे रास्ते से गंतव्य पर पहुंचे। लेकिन, बड़े वाहन घंटों सड़क पर रूके रहे। इस दौरान कोई भी प्रशासनिक पदाधिकारी जाम स्थल पर नहीं पहुंचे। साहरघाट से आ रहे चोरौत प्रमुख सतीश मिश्रा, उप प्रमुख महादेव साह भी जाम में फंस गए। दोनों ने लोगों को समझाने बुझाने का प्रयास किया। तभी सअनि विजय कुमार जाम स्थल पर पहुंचे। उन्होंने सीओ राजेन्द्र पाठक से मोबाइल पर बात कर ग्रामीणों को एक सप्ताह में कार्य शुरू कराने का आश्वासन दिया। उसके बाद जाम समाप्त हुआ। लेकिन, ग्रामीणों ने सप्ताहभर में कार्य शुरू न होने पर पुन: आंदोलन की बात कही। सड़क जाम करने वालों में वार्ड सदस्य तपेश्वर सदा, जगदीश सदा, तेतर सदा, राजेंद्र सदा, बिन्दा सदा, झगरू सदा सहित दर्जनों लोग शामिल थे।

Posted By: Jagran