सीतामढ़ी। बैंक का लोन ससमय चुकता नहीं करने पर मंगलवार को शहर के कोट बजार नूनीया टोली निवासी ईट भट्टा व्यवसायी युगल किशोर महतो के दो मंजिले घर को मजिस्ट्रेट व पुलिस बल के साथ पहुंचे बैंक के अधिकारी ने सील कर बैंक के अधिकार में ले लिया। इस दौरान मोहल्ला समेत आसपास के लोगों की भारी भीड़ तमाशबीन बनी रही। मजिस्ट्रेट के रूप में तैनात सदर दंडाधिकारी शीलानाथ सिन्हा ने बताया कि ऋणी महतो ईट भट्टा व्यवसायी हैं। जेसीबी खरीदने के लिए शहर के

¨सडीकेट बैक की शाखा से 15 लाख रुपये कर्ज लिया था। इसका ब्याज भी नहीं देने से बढ़कर 27 लाख रुपये हो गया था। ऋणी द्वारा बीते चार साल से खाते में रुपये जमा नहीं किया जा रहा था। इस संबंध में बैंक द्वारा कई बार नोटिस दी गई। बावजूद ऋणी द्वारा रुपये जमा नहीं किया गया। थकहार कर बैंक ने कोर्ट से आदेश प्राप्त कर उसके मकान को सील कर दिया। मौके पर नगर थाना के एसआइ विजय शंकर ¨सह, बैक के मुख्य प्रबंधक गडकरीश्री, शाखा प्रबंधक अंशुल परिहार सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद थे।

Posted By: Jagran