सीतामढ़ी। शहर के मेहसौल ओपी क्षेत्र के आदर्श नगर मोहल्ले में शुक्रवार रात जन्मोत्सव (छठी) के मौके पर खुशी में बौराकर फायरिग करने के मामले में छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। तीन अन्य की तलाश भी हो रही है। रविवार को ओपी प्रभारी मोसिर अली के बयान पर सभी नौ औरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई। गिरफ्तार सभी व्यक्तियों को न्यायिक हिरासत मे भेज दिया गया। तीन को इस मामले में पुलिस फरार दिखा रही है। बता दें कि इस सेलिब्रेशन में बड़ी संख्या में लोगों का जामवड़ा था। धांय-धांय कई राउंड गोलियां हवा में दागी गई। सरेशाम गोली चलने के अंदेशे से भय एवं दहशत का माहौल आसपास के इलाकों में पैदा हो गया। छानबीन हुई तो पता चला कि छठी के मौके पर खुशी में फायरिग कर जश्न मनाया गया। मौके से एक पिस्टल, 10 जिदा कारतूस, आठ खोखे व नौ मोटरसाइकिलें बरामद हुईं। पुलिस ने इस मामले में घर के मालिक समेत नौ लोगों को हिरासत में ले लिया। उनमें से छह को जेल भेज दिया गया। तीन बुजुर्ग हैं जो उस वक्त खाना खा रहे थे, सत्यापन करके उनको छोड़ दिया गया।

धांय-धांय गोलियां चलने से लोग समझ बैठे अपराधियों का हमला पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार लोगों मे आदर्श नगर निवासी श्याम किशोर सिंह, जीवेश कुमार, माधव सिंह, ऋषिकेश कुमार, बथनाहा थाने के मझौलिया निवासी शिवम प्रियदर्शी व आदर्श नगर निवासी पंकज कुमार शामिल हैं। फरार आरोपितों मे आदर्श नगर निवासी सर्वेश कुमार, रीगा थाना क्षेत्र के बभवगमा गांव निवासी तुषार कुमार व शहर के गोयनका कालेज के पीछे मुहल्ले के रहने वाले रोहित कुमार के नाम हं। तीनों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। पुलिस का कहना है कि एसपी हरकिशोर राय को गुप्त सुचना मिली थी कि हथियारों से लैश अपराधी आदर्श नगर मोहल्ले में कला निकेतन के समीप किसी घर में हो रही पार्टी में जुटे हैं तथा खाकर-पीकर अंधाधुंध हवाई फायरिग कर रहे हैं। इस सूचना पर एसपी ने क्यूआरटी, टेक्निकल सेल, नगर थाना व मेहसौल ओपी पुलिस को वहां छापेमारी के लिए भेजा। अंधाधुंध फायरिग से लोगों को लगा कि अपराधियों ने धावा बोल दिया हो। पुलिस प्रशासन भी इसी अंदेशे में पूरी तैयारी के साथ पहुंची। घर में घुसने से पहले पुलिसकर्मियों ने अपने हथियार को कॉक कर लिया था। श्याम किशोर सिंह के घर पर छापेमारी की। जहां सभी छह आरोपितों को पुलिस ने पकड़ लिया और थाने लेकर आई।

Edited By: Jagran