सीतामढ़ी। डुमरा थाना क्षेत्र के रिखौली गांव में बदमाशों ने एक दिव्यांग की गोली मार हत्या कर दी। दिव्यांगजन दिवस के ऐन मौके पर दिव्यांग कैलाश राम (45) की हत्या से शुक्रवार सुबह से पूरे दिन सनसनी रही। लोग गम और गुस्से में हैं। वह अत्यंत गरीब परिवार से ताल्लुक रखने के साथ शारीरिक रूप से दिव्यांग व मूकबधिर भी थे। जिससे हत्या की वजह समझ में नहीं आ रही। मृतक के परिवार में पत्नी के अलावा 15 साल का एक पुत्र है। आर्थिक तंगी के कारण पुत्र फेंकन राम भी लुधियाना में मजदूरी करता है। रिखौली वार्ड-10 में कैलाश का घर है। मृतक की पत्नी मीना देवी ने बताया कि गुरुवार रात 9:00 बजे कैलाश राम खाना खाकर टहलने हेतु घर से उत्तर पीसीसी सड़क सहलेश स्थान की ओर गए थे। उसी सतय अज्ञात व्यक्तियों द्वारा कैलाश राम के बायें गाल में गोली मार दी गई। जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। गोली की आवाज सुनकर मीना देवी दौड़कर गई। अपने पति को उठाकर घर लाई। सुबह थाने को सूचित की। डुमरा थाने से पुलिस पदाधिकारी आए। शव को सदर अस्पताल पोस्टमार्टम हेतु ले गए। मीना ने बताया है कि गोली मारते हुए उसने न किसी को देखा है न इस सिलसिले में किसी पर उसको संदेह है। इस मामले में एसडीपीओ रमाकांत उपाध्याय ने बताया कि घटना की छानबीन की जा रही है। जल्द कोई न कोई सुराग ढूंढ निकाला जाएगा। रात में खाकर टहलने निकले कैलाश राम के बाएं गाल में मारी गोली। दिव्यांग दिवस पर दिव्यांग की हत्या से लोगों में काफी गम और गुस्सा।

Edited By: Jagran