शेखपुरा : शेखपुरा जिले के जयरामपुर थाना क्षेत्र के उखदी गांव में शुक्रवार को दोपहर बाद तालाब में डूबने से सहोदर भाइयों के इकलौते पुत्रों की मौत हो गई। हादसा रेलवे निर्माण कंपनी के द्वारा 25 फीट से अधिक तालाब को गड्ढा कर दिए जाने से जमा हुई पानी में डूबने से हुई। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने रोड जाम कर आक्रोश व्यक्त किया। सूचना के बहुत देर बाद संबंधित थाना पुलिस एवं अंचलाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। -------

स्नान करने के क्रम में डूबे बच्चे शुक्रवार की दोपहर को खेलते हुए बच्चे स्नान करने तालाब में चले गए। इसी क्रम में दोनों बच्चे तालाब में डूब गए। मृतक बच्चा विलास यादव का 8 वर्षीय पुत्र चंदन कुमार तथा उन्हीं के सहोदर भाई वकील यादव का 10 वर्षीय पुत्र सूरज कुमार बताया जा रहा है। चंदन कुमार और सूरज कुमार दोनों अपने पिता के इकलौते पुत्र थे। दोनों के मौत से गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया। ----- 25 फीट से अधिक गड्ढा कर दिया तालाब शेखपुरा-दनियावां रेल लाइन निर्माण कर रही कंपनी के द्वारा गांव के तालाब से मिट्टी निकाली जा रही थी। इसी क्रम में 25 फिट से अधिक गड्ढा निर्माण कंपनी के द्वारा कर दिया गया। जिसमें 10 फिट से अधिक जमा पानी में स्नान करने से बच्चे डूब गए। ------ अंचलाधिकारी ने जबरन करवाया गड्ढा ग्रामीण चुन्नू यादव, मुकेश यादव सहित अन्य ने बताया कि सरकारी तालाब में अधिक गहराई करने से गांव वालों ने रोक लगा दी थी परंतु अंचलाधिकारी के द्वारा सरकारी तालाब को अपनी संपत्ति बताते हुए जबरन 25 फीट से अधिक गड्ढा कराते हुए तालाब से मट्टी निकलवाई गई जिसकी वजह से यह हादसा हो गया। --- किया रोड जाम इकलौते पुत्रों की मौत से गांव वालों में आक्रोष भी देखा गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने बरबीघा से सुभानपुर जाने वाली सड़क को जाम कर दिया एवं अपना आक्रोश व्यक्त किया। ----- घटना के देर बाद पहुंची पुलिस और अंचलाधिकारी की टीम घटना के देर बाद गांव वालों ने लाश को तालाब से निकाला। ग्रामीणों ने बताया कि बच्चों को किसी ने डूबते हुए नहीं देखा। बाद में खेल रहे बच्चों की नजर पानी में तैरती लाश पर पड़ी और हल्ला किए जाने पर ग्रामीणों ने लाश को निकाला और तत्काल संबंधित जयरामपुर थाना को इसकी सूचना दी परंतु बहुत देर बाद पुलिस मौके पर पहुंची। इसको लेकर भी ग्रामीणों में आक्रोश था। वही अंचलाधिकारी भी देर बाद घटनास्थल पर पहुंचे। ------- घटनास्थल पर एक बच्ची का भी कपड़ा मिला। ग्रामीणों ने बताया कि घटनास्थल पर जहां दो बच्चों के कपड़े मिले वहीं एक अन्य बच्ची का भी कपड़ा पाया गया है। हालांकि गांव वालों के द्वारा बहुत खोजने पर भी बच्ची का लाश बरामद नहीं हो सका जबकि गांव के किसी व्यक्ति के द्वारा अपनी बच्ची के खड़े खोने की बात अभी तक नहीं बताई जा रही थी। वही गांव के लोग तालाब में लाश को खोजने का प्रयास कर रहे हैं।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran