संस,बरबीघा : नगर क्षेत्र के रामपुर-सिडाय गाव मे बुधवार की सुबह उस समय कोहराम मच गया जब एक दिन पूर्व संध्या घर से रजरप्पा के लिए निकले तीन युवकों के मौत सड़क हादसे में हो जाने की खबर मिली। घटना में मरने वाले युवकों की पहचान रामपुर सिडाय गांव निवासी चालक मोहित कुमार, गोलू कुमार एवं दीपक झा के रूप में की गई। वहीं दो घायलों का रिम्स में इलाज चल रहा है। इस घटना में जहां दो युवकों ने घटना स्थल पर ही दम तोड़ दिया वहीं एक कि मौत रांची रिम्स में इलाज के दौरान हो गयी। जबकी कार में सवार अन्य दो युवक रिशु एवं रिक्की घायल हो गए। सभी को रिम्स रेफर कर दिया गया। हादसा रामगढ़ के कुज्जु नामक इलाके में एनएच पर हुआ। दुर्घटना का कारण तेज रफ्तार कार के सामने कुत्ते के आ जाने और उसे बचाने के दौरान होने की बात बताई जा रही है। रजरप्पा मंदिर खुलने की सूचना पर बनी योजना

इस सम्बंध में ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार स्विफ्ट डिजायर कार मोहित कुमार की थी। जिसे वो किराए पर भी चलाता था। बुधवार से रजरप्पा मंदिर खुलने की खबर मिलते ही मंगलवार की सुबह पांचों दोस्तो ने मुहल्ले में लगे चौकड़ी में ही वहां जाने का प्रोग्राम बनाया और देर शाम आठ बजे गांव से निकल पड़े और सुबह पांच बजे सड़क दुर्घटना के शिकार हो गए।

गांव में छा गया मातम

खबर मिलते ही गांव में मातम छा गया। पीड़ित परिजन खबर मिलते ही रांची के लिए रवाना हो गए। घटना के बाद मृतक मोहित के घर मे परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था। रोते बिलखते परिजनों की फोटो लेते समय मृतक के पिता प्रमोद सिंह रोते हुए पूछ रहे थे अब फोटुक काहे खींचा हा बउआ। ठीक वैसा ही माहौल मोहल्ले के अन्य दो घरों में भी देखा गया। जिनके घर के चिराग दुर्घटना ने लील लिए थे।

----

पत्नी को नहीं दी सूचना

दीपक झा की मौत की खबर पिता अधिवक्ता ललन झा को हुई पर उन्होंने घर में कुछ नहीं बताया। ग्रमीणों ने बताया कि मृतक की पत्नी दूसरी बार मां बनने वाली है। उन्हें पहले से एक बेटी है। मृतक दिल्ली में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। डेढ़ साल से वर्क फ्राम होम के दौरान घर से ही काम कर रहा था। घटना की सूचना पाकर मिलने आ रहे परिजनों को घर मे रोते बिलखते जाने से मना किया जा रहा था। ताकि घटना की जानकरी मिलने पर घर में कोहराम न मच जाए।

--

चीख पुकार से मोहल्ला गमगीन

पड़ोस में ही मृतक गोलू सिंह के घर में भी परिजनों की चीख पुकार से मोहल्ला गमगीन दिखा। दो साल पूर्व ही उसकी शादी हुई थी उसे एक बेटी भी है।मृतक एफसीआई में संविदा कर्मी था। एक ही मोहल्ले में इतनी बड़ी घटना की खबर जिसने भी सुनी स्तब्ध रह गया। ग्रमीणों ने बताया कि देर रात तक मृतक का शव गांव पहुंच पाएगा।

Edited By: Jagran