जागरण संवाददाता, शेखपुरा:

सीएम नीतीश कुमार की जल जीवन हरियाली यात्रा का असर जिले में दिखने लगा है और इस योजना में शिथिलता तथा लापरवाही को लेकर तीन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। जिन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई उसमें शेखपुरा तथा अरियरी के बीडीओ के साथ शेखपुरा नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी भी शामिल हैं। इसकी जानकारी देते हुए डीडीसी सत्येंद्र कुमार सिंह ने दी। बताया गया इन तीनों अधिकारियों के वेतन भुगतान पर रोक लगा दिया गया है तथा कारण बताओ नोटिस जारी करके लिखित जबाब मांगा गया है। इन तीनों अधिकारियों को जल-जीवन-हरियाली योजना के तहत अपने अधिकार क्षेत्र अधीन आने वाले तालाबों, पोखरों, आहर, पैन, कुआं सहित जल संचय से जुड़े स्थलों का सर्वे करना था। यह सर्वे आनलाइन होना था। डीडीसी ने बताया स्थल पर जाकर इन स्थलों का मौजूदा फोटो लेकर उसे विशेष एप पर अपलोड करना था। मगर कई निर्देश के बाद भी इन अफसरों ने इस कार्य को गंभीरता से नहीं लिया। इसी को लेकर इन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। बताना जरूरी है इसी योजना का जायजा लेने मुख्यमंत्री महीने के अंत में शेखपुरा आने वाले हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस