शेखपुरा। शेखपुरा में दूसरे दिन लगातार कोहरे का व्यापक असर रहा। ठंड भी असरदार रही और शीतलहर चलने से लोगों के जनजीवन पर इसका व्यापक असर पड़ा । हालांकि जिले में पांच दिनों तक अभी ठंड के असर रहने की बात मौसम विभाग के जानकार बता रहे हैं।

भीषण कोहरे और कंपकपाती ठंड के बीच जहां किसानों में खुशी है वहीं स्कूली बच्चे पढ़ने के लिए सुबह सुबह स्कूल भी जा रहे हैं। कोविड-19 के बाद कोचिग के खुलने के बाद बच्चों में पढ़ाई की ललक है और ठंड के बीच भी कोचिग पढ़ने के लिए जा रहे हैं। वहीं ठंड के असर की वजह से रबी की फसल पर सकारात्मक असर पड़ने की बात किसान बता रहे हैं। ठंड नहीं रहने से दलहन और गेहूं की फसल पर प्रतिकूल असर पड़ने लगा था।

चिकित्सकों द्वारा ठंड से बचने की सलाह भी दिए जा रहे हैं। चिकित्सक रामानंदन सिंह ने बताया कि ठंड से बचाव बहुत जरूरी है। ऐसे मौसम में ठंड लगने की संभावना बढ़ जाती है। ठंड से बचने के लिए सुबह में व्यायाम करने के साथ-साथ गर्म कपड़े पहनने, अलाव का सेवन करने और प्रोटीन युक्त भोजन करने की सलाह दी गई है।

जिले में ठंड का कहर अभी जारी रहेगा। मंगलवार को कृषि विज्ञान केंद्र ने अगले पांच दिनों का मौसम पूर्वानुमान जारी किया है। कृषि विज्ञान केंद्र के मौसम विभाग की अधिकारी शबाना ने बताया 20 से 24 जनवरी तक ठंड का असर बरकरार रहेगा। इस दौरान तापमान अधिकतम 17 से 19 तथा न्यूनतम 9 से 10 डिग्री पर बना रहेगा। इस दौरान आसमान भी मूलत: साफ रहेगा। बारिश की कोई संभावना नहीं है। सुबह कोहरा का असर रहेगा।

अलाव जलाने की हुई व्यवस्था

ठंड के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए शहरी क्षेत्र में अलाव जलाने की व्यवस्था की गई है। डीपीआरओ ने बताया डीएम के निर्देश पर शेखपुरा तथा बरबीघा शहरी क्षेत्र में अलाव जलाया जा रहा है। गरीब-बेसहारों में कंबल का भी वितरण किया जा रहा है। ठंड में बेघर लाचार लोगों के लिए रैन-बसेरा की भी व्यवस्था की गई है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप