जागरण संवाददाता, शेखपुरा। बिहार सरकार के भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि रामचरितमानस जैसे धार्मिक ग्रंथों पर किसी की भावनाओं को आहत करने वाली बयानबाजी नहीं करनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि देश को आगे बढ़ाने में सभी वर्गों ने समान रूप से अपना योगदान दिया है।

बिहार सरकार के भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी बुधवार की शाम को बरबीघा पहुंचे। बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री स्वतंत्रता सेनानी डॉक्टर श्रीकृष्ण सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वहीं, मालदह गांव में आयोजित समारोह में शामिल हुए।

इस दौरान रामचरितमानस विवाद पर उन्होंने कहा कि राजनीति करने वालों को किसी भी धर्म की आस्था पर प्रहार नहीं करना चाहिए। धार्मिक ग्रंथ रामचरितमानस को लेकर किसी की भावनाओं को आहत नहीं करना चाहिए।

मंत्री आलोक मेहता के अगड़ों के द्वारा मंदिर में घंटी बजाने वाले बयान पर बोलते हुए भवन निर्माण मंत्री चौधरी ने कहा कि बातों को गलत तरीके से प्रस्तुत किया गया है। अगड़े हों अथवा पिछड़े सभी से मिलकर ही देश बना है और मजबूत हुआ है और आगे भी मजबूत होगा। अगड़े समाज की भी भूमिका देश के निर्माण में महत्वपूर्ण रही है।

इस मौके पर नगर के मुख्य पार्षद सोनू कुमार मौजूद रहे। वहीं, उनके कई पुराने सहकर्मी मौजूद रहे, जिसमें पूर्व नगर पंचायत के अजय सिंह, संवेदक अरविंद सिंह, पवन सिंह, राजीव सिंह के साथ बरबीघा नगर परिषद के पूर्व सभापति रोशन कुमार इत्यादि शामिल हैं।

Edited By: Yogesh Sahu

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट