शेखपुरा । बरबीघा के कन्हौली गांव में नीति आयोग की टीम के आने की पूर्व सूचना पर आंगनबाड़ी केंद्र को चकाचक कर दिया गया। आम दिनों में जहां आंगनबाड़ी केंद्रों पर बच्चों की उपस्थिति कम होती है और भोजन से लेकर अन्य सुविधाएं भी नहीं होती वहीं नीति आयोग की टीम के आने की सूचना पर बच्चों की उपस्थिति भी पर्याप्त करा दी गई और भोजन से लेकर अनेक सुविधाओं को यहां उपलब्ध करा दी गई ।

बता दें कि बुधवार को नीति आयोग की टीम सबसे पहले कन्हौली गांव के आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण करने पहुंची जहां नीति आयोग के वरीय अधिकारी आलोक कुमार पहुंचे और केंद्र का निरीक्षण किया। हालांकि उनके द्वारा कई आवश्यक निर्देश भी दिए गए परंतु आंगनबाड़ी केंद्रों को बेहतर ढंग से व्यवस्थित कर दिया गया था। बता दें कि प्रखंड में संचालित ज्यादातर आंगनबाड़ी केंद्रों में  कुव्यवस्था ही देखने को मिलती है। आंगनबाड़ी केंद्र के माध्यम से जहां बच्चों को दिए जाने वाले भोजन पौष्टिक और समुचित मात्रा में नहीं दी जाती वही पोषाहार के वितरण में भारी गड़बड़ी की लगातार शिकायतें मिलती रहती है। सूत्र बताते हैं कि आंगनबाड़ी केंद्र के संचालिका और अधिकारियों मिलीभगत से सारी गड़बड़ी को अंजाम दिया जाता है और इसमें प्रत्येक महीने बंधी-बंधाई रकम इसके लिए निर्धारित कर दी गई है। पर्यवेक्षक की मिलीभगत की भी चर्चा लोग कर रहे हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप