शिवहर। गुरुवार को विश्व जनसंख्या दिवस पर जिले में विविध कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस दौरान सरोजा सीताराम सदर अस्पताल में एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। उद्घाटन डीएम अरशद अजीज, सीएस डॉ. धनेश कुमार सिंह, एसडीओ आफाक अहमद सहित अन्य ने संयुक्त रूप से किया। इस दौरान डीएम ने कहा कि आज सबसे बड़ी समस्या बढ़ती हुई जनसंख्या है। इसके कारण इंसान बेहतर जिदगी जीने से महरूम रह जाता है। आसपास के परिवारों पर गौर करें तो जिनका परिवार सीमित है वे संतुलित जीवन जीने हैं वहीं जिनके ज्यादा बच्चे हैं वे परेशान रहते हैं। यही स्थिति देश पर भी लागू होती है। विकसित राष्ट्र बनने के लिए बर्थ कंट्रोल जरुरी है। इस मुद्दे पर सबों को गंभीरता से विचार करने की जरूरत है। वहीं सीएस डॉ. धनेश कुमार सिंह ने जनसंख्या नियंत्रण के लिए सरकार प्रायोजित उपायों एवं सुविधाओं का जिक्र किया। कहा कि इस सुरसा के मुंह की भांति बढ़ रही समस्या के लिए हम सभी को आगे आना होगा। छोटा परिवार सुखी परिवार की थीम को जीवन में उतार कर हम एक मायने में देश के विकास में सहयोग कर रहे हैं। इस बीच पुरूष/ महिला नसबंदी, गर्भनिरोध के वैकल्पिक साधनों पर विस्तार से जानकारी दी। वहीं इस बार के स्लोगन परिवार नियोजन की निभाएं जिम्मेदारी, मां एवं बच्चों के स्वास्थ्य की है पूरी तैयारी दुहराते हुए इस पर अमल काआह्वान किया। - जागरूकता रथ किया गया रवाना परिवार नियोजन पखवारा के तरह एक जागरुकता रथ निकाला गया जिसे डीएम, सीएस, एसडीओ ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उक्त रथ के माध्यम से गांव गांव में जाकर लोगों को परिवार नियोजन की बाबत जानकारी दी जाएंगी। - लगाए गए थे छह काउंटर विश्व जनसंख्या दिवस पर सदर अस्पताल में कुल छह काउंटर लगाए गए थे जहां परिवार नियोजन से जुड़ी जानकारियां दी जा रही थी वहीं गर्भ निरोधक गोलियां, सूई सहित अन्य उपकरण मौजूद थे। उक्त कार्यक्रम में डीपीएम पंकज मिश्रा, सभी चिकित्सक, मधुबाला, डॉ. अरुण कुमार पांडेय सहित अन्य मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप