शिवहर। पिपराही थाना क्षेत्र के धनकौल गांव निवासी वर्तमान प्रखंड प्रमुख सुनैना देवी को शराब मामले में फंसाने वाला खुद पुलिस की गिरफ्त में आ गया। थानाध्यक्ष राजेश चौधरी ने बताया कि पुलिस को धनकौल में शराब होने की सूचना मिली। पुलिस वहां पहुंची तो प्रखंड प्रमुख सुनैना देवी के घर के पास से सचमुच 45 बोतल नेपाली शराब बरामद हुई। आसपास के लोगों से पूछताछ में मामला संदिग्ध जान पड़ा। वहीं पता लगा कि चार लोगों ने जानबूझकर प्रमुख को फंसाने की नीयत से वहाँ शराब छुपाई थी।त्वरित कार्रवाई करते हुए उन चारों में एक इंद्रजीत राय को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि शेष की गिरफ्तारी के लाए तलाश जारी है। गिरफ्तार इंद्रजीत राय ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। बताया गया है कि साजिशकर्ताओं में एक शराब कारोबारी भी है। जिसके यहां से शराब खरीदी गई थी। इधर प्रखंड प्रमुख पति गजाधर बैठा ने कहा है कि हाल ही में प्रमुख पद पर हुई जीत से विरोधियों में जलन है इसलिए मुझे और मेरे परिवार को झूठे मामलों में फंसाने की साजिश रची गई थी।

Posted By: Jagran