मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

शिवहर। पल्स पोलियो अभियान की शुरुआत सरोजा सीताराम सदर अस्पताल से रविवार को की गई। इस दौरान डीडीसी मो. वारिस खान ने नवजात शिशु को पोलियो की खुराक पिलाई। वहीं कहा कि इस अभियान को पूरी संवेदनशीलता के साथ पूरा करने की आवश्यकता है। पोलियो की दुष्परिणामों से हम सभी वाकिफ हैं ऐसे में लक्ष्य के प्रति समर्पण आवश्यक है ताकि इस रोग की वापसी नहीं हो सके। यह भी कहा कि अभियान में शामिल अधिकारी या कर्मी इसे न सिर्फ ड्यूटी बल्कि मानवीय धर्म समझ कर करें। आपके ऊपर नई पीढ़ी एवं समाज को स्वस्थ रखने की जरूरत है। वहीं सिविल सर्जन धनेश कुमार सिंह ने कहा कि पल्स पोलियो अभियान में लगे अधिकारी एवं कर्मी इसे गंभीरता से लें। लक्ष्य को हर हाल में पूरा करने की तत्परता दिखाएं। ख्याल रहे कि एक भी बच्चा छूटने न पाए। यह भी जानकारी साझा की गई कि यह अभियान आज से 11 अप्रैल तक चलेगा वहीं 12 अप्रैल को बी टीम काम करेगी। इस बार जिले में शून्य से पांच वर्ष आयु वर्ग के 1 लाख 14 हजार बच्चों को पोलियो की खुराक देने का लक्ष्य निर्धारित है। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ.एके झा के हवाले से यूनिसेफ सीएमसी संजीत रंजन ने बताया कि अभियान की सफलता के लिए 44 ट्रांजिट टीमें काम करेंगी। वहीं 231 टीमें घर- घर जाकर बच्चों को पोलियो की दवा देंगी। जबकि छह घुमंतू टीमें बस स्टॉप सहित अन्य सार्वजनिक स्थलों पर अपना काम करेंगी। मालूम हो कि जिले में एक लाख 28 हजार घरों तक पहुंच बनानी है। मौके पर डीपीएम पंकज मिश्रा, वीसीसीएम योगेंद्रनाथ तिवारी, स्वास्थ्य प्रबंधक संजय कुमार, बीएमसी शशिरंजन कुमार चौधरी सहित अन्य मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप