शिवहर। भारत बंद के दौरान मुख्यालय में एक बड़ा हादसा होते होते बचा। जीरोमाइल चौक पर भारत बंद के समर्थक डटे थे। वहीं विभिन्न दलों के शीर्ष नेता धरना पर बैठे थे। वहीं विहिप एवं बजरंग दल समर्थक वहां पहुंच भारत बंद के नाम पर जबरन दुकान बंद कराने का आरोप लगा प्रतिकार किया। वहीं जय श्रीराम का नारा लगाने लगे। इस बीच दोनों समूहों में जमकर नोंक- झोक हुई। स्थिति बिगड़ती इससे पूर्व आशुतोषनंदन ¨सह ने लोगों को समझा बुझाकर मामला शांत कराया। उसके बाद बजरंग दल व विहिप कार्यकर्ता जिसमें स्थानीय युवा शआमिल थे जय श्रीराम का नारा लगाते शहर की ओर बढ़ गए। वहीं लोगों स कहा कि जबरन दुकान बंद न करें।

वहीं इसकी सूचना पुलिस को दी गई। त्वरित संज्ञान लेते हुए एसडीएम आफाक अहमद, एसडीपीओ राकेश कुमार, नगर थानाध्यक्ष जीरो माइल चौक पहुंचे जहां लोगों की भीड़ हटाते हुज स्थिति सामान्य किया। वहीं शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन की अपील की। सावधान किया कि किसी तरह का उपद्रव पैदा करनेवालों से पुलिस सख्ती से निबटेगी। - दोनों पक्षों ने दिए शिकायती आवेदन बंथ के दौरान हुई झड़प को लेकर दोनों ओर से शिकायती आवेदन प्रशासन को दिया गया है। कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों के जिला प्रधानों ने अनुमंडलाधिकारी शिवहर को लिखित आवेदन देकर कहा है कि हमारे शांतिपूर्ण बंद कार्यक्रम में बीजेपी एवं जदयू के उपद्रवी तत्वों ने पहुंच कर हंगामा खड़ा किया गाली गलौज की हाथापाई पर उतारच हो गए। वहीं पिपराही रोड स्थित हार्डवेयर व्यवसायी त्रिलोकी चौधरी ने बंद समर्थक पार्टियों को आरोपित करते हुए नगर थाना में आवेदन दिया है कि समर्थकों ने जबरन दुकान बंद कराया वहीं दुकान के आगे रखे टायर उठा ले गए। थानाध्यक्ष अशोक कुमार राय ने दोनों आवेदनों की प्राप्ति की पुष्टि करते हुए कहा है कि मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran