सारण। दिघवारा थाना क्षेत्र के नयागांव बाजार स्थित शहीद राजेन्द्र स्मारक पर अगस्त क्रांति 1942 के वीर योद्धा अमर शहीद राजेन्द्र ¨सह की 93 वीं जयंती सोमवार को मनाई गई। राजेन्द्र ¨सह का जन्म 4 दिसंबर 1924 को सोनपुर प्रखंड के रसूलपुर पंचायत अंतर्गत बनवारी चक गांव में एक किसान परिवार में हुआ था । राजेन्द्र ¨सह के पिता शिवनारायण ¨सह एवं माता जीरा देवी थे। जब अगस्त 1942 में महात्मा गांधी द्वारा अंग्रेजों भारत छोड़ो का आंदोलन शुरू किया गया तो उस आंदोलन में युवा राजेंद्र ¨सह भी कूद पड़े। उस समय उनकी उम्र लगभग अठारह वर्ष होगी और उसी उम्र में पटना सचिवालय पर तिरंगा झंडा फहराने के दौरान ग्यारह अगस्त 1942 को सात दोस्तों के साथ राजेन्द्र ¨सह शहीद हो गये। लोग आज भी उनकी शहादत पर गर्व महसूस करते हैं और हर साल चार दिसंबर को शहीद राजेन्द्र ¨सह की जयंती नयागांव में मनाते हैं। जयंती समारोह में मुख्य रूप से भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष व सोनपुर के पूर्व विधायक विनय कुमार ¨सह,विधान पार्षद डा. बिरेन्द्र नरायण यादव, परसा के पूर्व विधायक छोटेलाल राय, बैद्यनाथ प्रसाद ¨सह विकल, पूर्व जिप अध्यक्ष छोटी कुमारी, ब्रजकिशोर ¨सह, सोनपुर प्रखंड मुखिया संघ अध्यक्ष बब्लू ¨सह , शहीद राजेन्द्र स्मारक समिति अध्यक्ष भोला राम, सचिव पारस नाथ गुप्ता, बिरेन्द्र सहनी, चन्देश्वर प्रसाद भारती, नरेन्द्र ¨सह, विमल चौरासिया, नगीना राय सहित दर्जनों गणमान्य लोग शामिल हुए। मंच संचालन मोहन साह द्वारा किया गया।

Posted By: Jagran