छपरा, जेएनएन। कोपा सम्होता रेलवे स्टेशन के पास सोमवार की देर रात आपसी विवाद के बाद भतीजे ने चाचा की चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। मृतक पास की अनुसूचित जाति बस्ती निवासी पियारचंद डोम का पुत्र हरेंद्र डोम था। इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार करने के साथ ही हत्या में प्रयुक्त खून सना दो चाकू व एक मोबाइल बरामद किया है। घटना के संबंध में मृतक की पत्नी बेबी देवी ने मंगल डोम, छोटेलाल डोम, उसकी पत्नी धनिया देवी, छोटक डोम, अमरजीत डोम व एक महिला पर प्राथमिकी दर्ज कराई है।

बेबी देवी ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि सोमवार देर रात उसके पति को हत्या की नीयत से भाई-भतीजे घर से बुलाकर स्टेशन पर ले गए। वहां साजिश के तहत सबने शराब पी। इसके बाद उसके पति का गला चाकू से रेत दिया। शरीर पर भी चाकू से कई वार किए। हत्या की घटना को उसके भतीजा अमरजीत डोम ने अंजाम दिया है।

कोपा थानाध्यक्ष शिवनाथ राम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए पांच में से तीन आरोपित अमरजीत, छोटक डोम और मंगल डोम को गिरफ्तार कर लिया। मंगलवार सुबह शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मालगाड़ी का सील काटसामान चोरी करने के दौरान हुआ विवाद

कोपा सम्होता स्टेशन के पास सोमवार की रात की गई हत्या का मूल कारण मालगाड़ी से सामान चोरी का विवाद बताया गया है। बताते चलें कि कोपा सम्होता स्टेशन पर लंबे समय से मालगाड़ी की बोगी का सील काटकर सामान चोरी का सिलसिला चलता आ रहा है।

हरेंद्र डोम और उसके भतीजे अमरजीत समेत अन्य ने सोमवार की रात भी सील काटकर मालगाड़ी से सामान चुराया। इसी दौरान दोनों में विवाद हो गया और फिर चाकूबाजी होने लगी। आरोप है कि इसी दौरान अमरजीत ने हरेंद्र के गर्दन और पेट में चाकू घोंप दिया।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस