संसू, मांझी: दुर्गापूजा को लेकर मांझी थाना परिसर में मंगलवार को शांति समिति की बैठक की गई। थानाध्यक्ष विकास कुमार सिंह एवं सीओ धनंजय कुमार ने लोगों से पूजा के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की। कहा कि मूर्ति विसर्जन नदी की बजाय पोखर में किया जाना चाहिए। 16 अक्टूबर तक प्रतिमाओं का विसर्जन कर लेना है।

विभिन्न पूजा समिति के अध्यक्षों से सीओ व थानाध्यक्ष ने कहा कि प्रशासनिक स्तर से पूजा को लेकर जारी निर्देश का अनुपालन सुनिश्चित करेंगे। पंडाल में महिला व पुरुषों के अलग-अलग प्रवेश तथा निकास के रास्ते के अलावा मुख्य पंडाल में सीसी कैमरे लगाना पूजा समिति के लिए अनिवार्य होगा। मूर्ति विसर्जन नियत समय 16 अक्टूबर तक हो। किसी तरह के जुलूस व आर्केस्ट्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी। उमाशंकर ओझा, मुन्ना साह, दलन यादव, अख्तर अली, मनीष सिंह, भोली खान सहित अन्य मौजूद थे।

एकमा में पूजा-पंडाल निर्माण को दिए गए निर्देश

संसू, एकमा: एकमा थाना परिसर में मंगलवार को दुर्गा पूजा के मद्देनजर बीडीओ सत्येंद्र परासर की अध्यक्षता में शांति समिति की बैठक हुई। पूजा पांडाल से लेकर मूर्ति विसर्जन के संबंध में कई निर्देश दिए गए। बीडीओ व थानाध्यक्ष ने बताया गया कि सख्ती से कोरोना प्रोटोकाल का पालन होगा। मेला व खाने-पीने का स्टाल पंडाल के समीप नहीं लगाना है। आर्केस्ट्रा व डीजे नही बजेगा। लाउडस्पीकर बजाने के लिए भी अनुमति एसडीओ से लेनी होगी। मूर्तियों का विसर्जन नदियों में न कर तालाबों में करना होगा। मौके पर सीओ कुमारी सुषमा, थानाध्यक्ष देव कुमार तिवारी, योगेंद्र शर्मा, जिला पार्षद रुपेश कुमार छोटू, युगुल सिंह, वार्ड पार्षद जितेंद्र सिंह, जेपी शर्मा, अरुण कुमार, अभिषेक कुमार काका, प्रमोद कुमार सिंह, गुरुचरण मांझी, डां परशुराम शर्मा, हरेंद्र ओझा, प्रमोद सिंह, सुनील रस्तोगी, भरत प्रसाद, शैलेंद्र प्रसाद, राजू प्रसाद, परमहंस सिह, संतोष पंडित, डा निरज दुबे, संदेश कुमार राय, वकील महतो, चितरंजन सिंह आदि मौजूद थे। --------------

निर्देश

पंडाल में बनाएं महिला-पुरुष के लिग अलग-अलग प्रवेश व निकास द्वार, 16 अक्टूबर तक हो जानी चाहिए प्रतिमाएं विसर्जित

----------

Edited By: Jagran