जासं, छपरा: पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा जंक्शन पार्सल घर में छापेमारी कर सीआइबी तथा आरपीएफ की टीम ने शुक्रवार को 24 लाख रुपए मूल्य के गुटखा जब्त किया। जब्त किया गया गुटखा उत्तर प्रदेश के देवरिया से पार्सल के जरिए छपरा के लिए बुक कराया गया था। बुक कराने तथा पाने वाले छपरा के मोहम्मद साजिद खाजे खान और मिर्जापुर के असगर अली शामिल हैं। सीआईबी इंस्पेक्टर मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि पार्सल से उतारे गए सामानों की जांच के क्रम में यह पाया गया कि भारी मात्रा में गुटखा लाया गया है, जिसे मीठा पान मसाला के नाम पर बुक कराया गया था, लेकिन जांच में उसमें गुटखा पाया गया। छापेमारी दल में सीआईबी के उप निरीक्षक जय सिंह यादव, आरपीएफ के उप निरीक्षक अनिल कुमार, कांस्टेबल कुमार प्रियरंजन, प्रताप सिंह समेत अन्य जवान शामिल थे । उन्होंने बताया कि इस मामले में आरपीएफ के द्वारा एक मामला दर्ज किया गया है और गुटखा बुक कराने वाले तथा पाने वाले के नाम पता का सत्यापन किया जा रहा है।उन्होंने बताया कि सुबह में अप इंटरसिटी पैसेंजर ट्रेन से गुटखा उतारा गया। कुल 124 पैकेट है। उन्होंने बताया कि पार्सल में सामानों की बुकिग करने के लिए भरे जाने वाले फार्म में ग़लत जानकारी देने के कारण यह कार्रवाई की गयी है और जांच शुरू कर दिया गया है। इसकी सूचना वरीय अधिकारियों को दे दी गई है।

बिहार में गुटखा पर है प्रतिबंध

बिहार में गुटखा पर सरकार के द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने के कारण कारोबारियों द्वारा उत्तर प्रदेश से तस्करी कर गुटखा लाया जाता है और प्रशासन को चकमा देने के लिए दूसरे सामान के नाम पर उसे पार्सल में बुक कराया जाता है। इसके पहले भी छपरा जंक्शन पर पार्सल से काफी मात्रा में शराब बरामद किया गया था, जिसे शीतल पेय पदार्थ के नाम पर बुक करा कर लाया गया था और शराब लाने वाले पार्सल से छुड़ाने में लगे थे । इसी बीच सीआईबी तथा आरपीएफ को भनक लग गई थी, जिसे बरामद किया गया। हालांकि शराब लाने वाले नहीं पकड़े जा सके।

क्या है प्रावधान

पार्सल में समान की बुकिग कराते समय सामान भेजने वाले तथा पाने वाले का नाम पता के साथ-साथ मोबाइल नंबर भी दर्ज करने का प्रावधान किया गया है, लेकिन गुटका बुक कराने वालों और चुराने वालों का नाम दर्द नहीं पाया गया। इस वजह से आशंका बढ़ गई और जांच की गई तो, उसमें गुटखा पाया गया इसके पहले भी शराब बुक करा कर लाने वालों के द्वारा सही नाम पता नहीं भरा गया था और ना ही मोबाइल नंबर अंकित किया गया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस