छपरा। जिला स्कूल परिसर में स्थित जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (साक्षरता) के कार्यालय के समक्ष अपनी मांगों के समर्थन में 27 दिनों से धरना पर बैठे अनौपचारिक शिक्षा

अनुदेशकों ने बुधवार को जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन के कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन कर अविलंब फोल्डर भेजने का अनुरोध किया।

अनुदेशक अनौपचारिक संघर्ष संमिति के बैनर तले अनिश्चित कालीन धरना पर बैठे शिक्षा अनुदेशक ने कहा कि जब तक उनका सामंजन नहीं हो जाता है, वह धरना पर जारी रखेंगे। प्रदर्शन के बाद आयोजित सभा को संबोधित करते हुए अनुदेशकों ने कहा कि वे भूतपूर्व अनौपचारिक शिक्षा अनुदेशक है। जो 26.02.2016 के पूर्व अस्पष्ट पेटिसनर है एवं लगातार तीन वषों से अधिक समय तक कार्य किये है। लेकिन फर्जी अनुदेशकों का फोल्डर भेजकर सामंजन कर दिया गया। उनका फोल्डर नहीं भेजा गया तो शिक्षा अनुदेशक 17 सितंबर को डीएम कार्यालय में आत्मदाह करेंगे। प्रदर्शन के बाद शिक्षा अनुदेशकों ने डीएम को स्मार पत्र सौपा।

इस मौके पर नरेंद्र कुमार, राममति देवी, हीरा लाल राम, सत्येंद्र राम, नागेद्र शर्मा, उषा कुमारी, भागमनी कुमारी, दुर्गामुनी देवी, श्री भगवान राम, विकास कुमार भूषण, त्रिवेणी प्रसाद, राजेश कुमार ¨सह, सोना लाल राम, फूल कुमारी देवी, उषा कुमारी, विदु कुमारी, भीम राम, शिवशंकर राम, ज्ञांति देवी, जवाहर शर्मा, शोभी राय, राम कुमार ठाकुर, विद्यावती देवी, प्रदीप कुमार शर्मा, तारकेश्वर नाथ तिवारी, कसमु²दीन अंसारी, हरिचरण मांझी आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran