दिघवारा (सारण), निसं.: नयागांव थाना क्षेत्र के डुमरी बुजुर्ग शोभेपुर गांव को जोड़ने वाली नवनिर्मित पुल के नीचे माही नदी में हजारों की संख्या में तैरती पुस्तकें मिलीं। मंगलवार की सुबह डुमरी बुजुर्ग निवासी एवं बीडीसी सदस्य ठाकुर उदय प्रताप सिंह, तारा सिंह, शत्रुघ्न सिंह आदि ग्रामीणों ने नदी में किताबों को तैरते हुए देखा। ग्रामीणों ने बताया कि यह किताबें सर्व शिक्षा की है लेकिन जब पुलिस मौके पर पहुंची तो वह किताब डीएवी नई दिल्ली आर्य समाज ट्रस्ट की पायी गयी जो कक्षा 1 से 10 तक की थी।

किताब तकरीबन 10 हजार थी। इस संबंध में पूछे जाने पर सोनपुर प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी बी. राम ने बताया कि यह किताब सर्व शिक्षा की नहीं है। सर्व शिक्षा की किताबें वितरित कर दी गयी हैं। किताब बरामदगी की खबर आग की तरह फैल गयी। इसकी सूचना जिला मुख्यालय के वरीय पदाधिकारी को भी लगी। लिहाजा निर्देश पर घटनास्थल पर पहुंचे थानाध्यक्ष नयागांव लालबहादुर, सोनपुर डीएसपी लालबाबू यादव, एसडीएम अभ्येन्द्र मोहन सिंह व सोनपुर बीडीओ अरूण सिंह ने बताया कि किताबों को एकत्र करा तहकीकात की जा रही है। दोषियों के विरुद्ध शीघ्र कार्रवाई होगी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर