निसं, दिघवारा (सारण) : राशन- किरासन कूपन वितरण के दौरान गुरुवार को नयागांव के मुखिया ने पीआरएस प्रमोद कुमार एवं विकास मित्र के पति की जमकर पिटाई कर दी। दोनों घायलों को प्राथमिक उपचार के लिए दिघवारा स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है। बाद में थानाध्यक्ष की देखरेख में पुन: कूपन का वितरण शुरू किया गया।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक गुरुवार को नयागांव स्थित गोगल सिंह इंटर कालेज परिसर में राशन- किरासन कूपन का वितरण किया जा रहा था। कूपन वितरण के दौरान नवादा जिला के अकौना मुफस्सिल थाना अन्तर्गत अम्बिका बिगहा निवासी एवं नयागांव पंचायत के रोजगार सेवक प्रमोद कुमार से मुखिया बैजनाथ राय ने कूपन की मांग की। प्रमोद का कहना है कि मुखिया ने एक दिन पहले भी उनसे जबरन कूपन मांगा था और मुखिया ने कहा था कि वे स्वयं ही इसका वितरण करेंगे। कूपन देने से इनकार करने पर मुखिया ने तरह-तरह की धमकी दी थी। गुरुवार को कूपन वितरण के दौरान मुखिया अपने कुछ सहयोगियों के साथ कालेज परिसर में पहुंचे और लाठी-डंडे से पीटकर उन्हें घायल कर दिया। इस दौरान पीआरएस प्रमोद मुखिया को लगातार नियम का हवाला देता रहा, लेकिन मुखिया ने एक न सुनी। इस दौरान विकास मित्र के पति भी बुरी तरह जख्मी हुए। दोनों को इलाज के लिए दिघवारा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें बेहतर उपचार के लिए सोनपुर रेफरल अस्पताल भेज दिया गया। प्रमोद का आरोप है कि मुखिया ने सुनियोजित साजिश के तहत घटना को अंजाम दिया है। उधर, मुखिया का कहना है कि उनपर लगाया गया आरोप पूरी तरह बेबुनियाद है। मैंने मारपीट नहीं की है। प्रमोद एक साजिश के तहत फंसाने के लिए उन पर ऐसा आरोप लगा रहे हैं। उधर बीडीओ अरुण कुमार सिंह ने बताया कि एक जनप्रतिनिधि का सरकारी सेवक से मारपीट शर्मनाक है। यदि कूपन वितरण में अनियमितता बरती जा रही थी तो मुखिया को इसकी शिकायत करनी चाहिए थी। इस संबंध में थानाध्यक्ष लालबहादुर ने बताया कि मारपीट की घटना कूपन वितरण के दौरान हुई है। मामले की छानबीन की जा रही है। मुखिया व पीआरएस की तहरीर पर छानबीन के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर