समस्तीपुर । प्लस टू रोसड़ा उच्च विद्यालय रोसड़ा परिसर में लगातार दो दिनों से चल रहे सामुदायिक किचन में प्रतिदिन लोगों की संख्या में इजाफा हो रहा। सोमवार की सुबह यहां 30 लोग मौजूद थे। करीब 7:30 बजे रसोइये ने चाय तैयार होने की घंटी बजाई और देखते ही देखते व्यवस्था में लगे युवा स्वयंसेवक अपने कार्य में जुट गए। रोहित के हाथ में चाय की केतली और विकास कप संभाले हुए थे, जबकि श्याम बिस्कुट के पैकेट लिए आगे आगे चल रहे थे। वहीं, गौरव और सुमित पेयजल की व्यवस्था संभाल रहे थे। आवासन में रहे प्रत्येक व्यक्ति को बिस्किट और पानी के साथ इच्छानुसार चाय दी जा रही थी। तत्पश्चात सभी लोग नित्य क्रिया में लग गए। स्नान के बाद कई ने अपने इष्ट देव को भी याद किया। और फिर रसोइया ने दोपहर में भोजन की घंटी बजा दी। भोजन के लिए भी शारीरिक दूरी मेंटेन करते हुए एक बेंच पर मात्र दो लोगों को ही बैठाया गया था। और, फिर व्यवस्था से जुड़े लोगों द्वारा ही सभी को पत्तल पर चावल-दाल तथा आलू और सोयाबीन की सब्जी परोसी गई। भोजन के पश्चात पुन: ऊपरी मंजिल पर बने आवास में पहुंच सभी आराम फरमाने लगे। भागलपुर के संदीप कुमार एवं पूर्णिया के कुंदन कुमार तथा कटिहार के अजय भुंइया ने भोजन एवं आवास की व्यवस्था को बेहतर बताते हुए प्रशासन व स्वयंसेवकों को धन्यवाद दिया। पूरे परिसर में इन व्यवस्था के बीच फिजिकल डिस्टेंस भी लगातार मेंटेन किया जा रहा। मुंह पर मास्क तथा हाथ में ग्लब्स लगाए रसोइया भी पूरा एहतियात बरत रहा। केंद्र के प्रभारी कार्यपालक दंडाधिकारी रोसड़ा अमरनाथ गुप्ता ने बताया कि साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा गया। निर्देश के अनुसार बाहर से आनेवाले व्यक्तियों को भोजन और आवास लगातार मुहैया कराया जा रहा। इस बीच अनुमंडलाधिकारी अमन कुमार सुमन ने भी केंद्र पर पहुंच व्यवस्था का जायजा लिया। हर हाल में फिजिकल डिस्टेंस मेंटेन रखने का निर्देश भी दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस