समस्तीपुर । पेंशनर्स एसोसिएशन राज्य कमेटी के आह्वान पर जिला शाखा के सदस्यों ने मंगलवार को वित्त विभाग के आदेशित संशोधित अंतर पेंशन की राशि भुगतान में विलंब को लेकर समाहरणालय पर आक्रोशपूर्ण प्रदर्शन किया। इससे पूर्व बिहार राज्य पथ परिवहन निगम के प्रांगण से पेंशनरों ने रैली निकाली। रैली मुख्य सड़क से होते हुए समाहरणालय मुख्य द्वार पर पहुंच कर सभा में तब्दील हो गया। आक्रोशितों ने मांगों को लेकर प्रशासन के विरोध में जमकर नारेबाजी की। सभा को संबोधित करते हुए जिला मंत्री ने बताया कि हम सिर्फ अपनी मांग के साथ-साथ केरल में आए बाढ़ के पीड़ितों के लिए एक दिन का पेंशन राज्य कमेटी के माध्यम से सहयोगार्थ भेज रहे है। ताकि पीड़ित परिवार को सहयोग मिल सके। इसमें पूर्व के सेवानिवृति कर्मियों के पुनरीक्षित पेंशन का भुगतान अविलंब करने, संपूर्ण निश्शुल्क चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने, नई पेंशन नीति वापस लेने, तृतीय एसीपी का लाभ 1 जनवरी 2006 से उपलब्ध कराने, ठेका, संविदा, मानदेय पर नियोजित कर्मियों की सेवा नियमित करने, स्थायी प्रकृति के पदों पर नियमित बहाली करने, कारपोरेट परस्त एवं जनविरोधी नीतियों को वापस लेने, पेंशन फंड, बीमा, रक्षा, रेलवे आदि सार्वजनिक प्रतिष्ठानों में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश पर रोक लगाने, श्रम कानून में मालिक पक्ष बदलाव बंद करने, भूमि अधिग्रहण कानून वापस लेने सहित अन्य मांगों की पूर्ति करने की मांग की गई। मौके पर रामस्वार्थ ¨सह, चंदेश्वर ठाकुर, योगेंद्र बैठा, देवनंदन ठाकुर, विष्णु देव मिश्र, राम स्वरूप महतो, पूनम प्रभा, मीरा कुमारी, श्रीचंद्र राम, राम खेलावन ठाकुर, सीता राम ठाकुर, राम सेवक चौधरी, राम सेवक ¨सह, विशेश्वर बैठा, अनूप लाल महतो, चंदेश्वर ठाकुर आदि उपस्थित रहे। अध्यक्षता तारकेश्वर प्रसाद ने की। अंत में पांच सदस्यीय शिष्टमंडल ने जिलाधिकारी से मिलकर वार्ता से की।

Posted By: Jagran