समस्तीपुर। एक-दो दिनों के बाद उत्तर बिहार में अनेक स्थानों पर गरज वाले बादल के साथ हल्की वर्षा होगी। बारिश के समय हवा की गति थोड़ा अधिक रहने का अनुमान है। 19 से 22 मई के बीच बारिश होने की संभावना है। इस दौरान 21 मई को बारिश होने की अधिक संभावना है। यह कहना है मौसम विभाग का। मंगलवार को अगले 21 मई तक के लिए जारी मौसम पूर्वानुमान में यह बात कही गई है। डॉ राजेन्द्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय पूसा के मौसम विभाग के द्वारा पूर्वानुमान में कहा गया है कि

पूर्वानुमानित अवधि में उत्तर बिहार के कई जिलों में गरज वाले बादल बन सकते हैं। 19 से 22 मई के बीच उत्तर बिहार के जिलों के अनेक स्थानों पर तेज हवा और गरज के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है। इस दौरान 21 मई को वर्षा होने की संभावना अधिक है। मौसम विभाग ने कहा कि इस अवधि में अधिकतम तापमान 35 से 37 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। जबकि न्यूनतम तापमान 25 से 27 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहने का अनुमान है। सापेक्ष आ‌र्द्रता सुबह में 85 से 90 प्रतिशत तथा दोपहर में 45 से 55 प्रतिशत रहने की संभावना है। पूर्वानुमानित अवधि में औसतन 15 से 20 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पुरवा हवा चलने का अनुमान है।

किसानों के लिए जारी समसामयिक सुझाव में कहा गया है कि वर्षा की संभावना को देखते हुए कृषि कार्यों में सावधानी बतें। निचली जमीन जहां जल जमाव ज्यादा होता हो उस खेत में लम्बी अवधि वाले धान की किस्में जैसे-राजश्री, राजेन्द्र मंसुरी, राजेन्द्र स्वेता, किशोरी, स्वर्णा, स्वर्णा सब-1 वीपीटी-5204 एवं सत्यम की नर्सरी 25 मई से लगा सकते हैं। नर्सरी के लिए खेत की तैयारी करें। खरीफ मक्का की बुआई करें। खेत की जुताई में 10 से 15 टन गोबर की सड़ी खाद प्रति हेक्टेयर की दर से व्यवहार करें।

Edited By: Jagran