समस्तीपुर। बीमाधारक बोनस में वृद्धि समेत 15 सूत्री मांगों को लेकर लाइफ इंश्योरेंस एजेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया (लियाफी) के बैनर तले एलआइसी अभिकर्ताओं ने शुक्रवार को विश्राम दिवस मनाया। इस दौरान अभिकर्ताओं ने प्रबंधन व सरकार के खिलाफ जगह जगह नारेबाजी की। शहर के आजाद चौक स्थित बीमा कार्यालय में अभिकर्ताओं ने मध्याह्न भोजन के समय एकत्रित होकर नारेबाजी की। नेतृत्व संघ के अध्यक्ष शैलेन्द्र साह ने किया। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने एलआइसी प्रबंधन और सरकार के नीतियों की आलोचना की। साथ ही सरकार व प्रबंधन से बीमाधारक बोनस में वृद्धि, पॉलिसियों पर लगाए गए सर्विस टैक्स की वापसी, बीमा विधेयक में दर्ज अभिकर्ता विरोधी तमाम प्रावधानों को समाप्त करने, अभिकर्ताओं के लिए वेलफेयर फंड का प्रावधान करने समेत अन्य मांगों को पूरा करने की बात कही। मौके पर उपाध्यक्ष ललित कुमार झा, सचिव प्रमोद कुमार, कुंदन कुमार, अरुण कुमार वर्मा, अनुज कुमार सिंह, रामलला चौधरी, रामबाबू राय, अरुण कुमार, वैद्यनाथ पंडित, रमेश प्रसाद सिंह, वासुकी कुमार सिंह, रामनाथ राय, अंबुज कुमार, महेश कुमार, मिथिलेश कुमार राय, शंभू राय, प्रवेश कुमार मिश्र आदि मौजूद रहे। दलसिंहसराय, संस : स्थानीय थाना रोड स्थित भारतीय जीवन बीमा निगम कार्यालय परिसर में लियाफी के बैनरतले एलआइसी अभिकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए सचिदानन्द राय ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में कार्य का निर्वहन करते हुए सैकड़ों अभिकर्ताओं की मृत्यु हो गई। उनके स्वजनों को मुआवजने की मांग की। मौके पर उपाध्यक्ष शिव शंकर शशि, अमर किशोर चौधरी, दीप नारायण चौधरी, तरवेज आलम, इबरार अहमद, अशोक कुमार राय, लालेंद्र कुमार, राकेश कुमार झा, राजेश कुमार खड़े, सुजीत कुमार झा, ऋषिकेश झा, अर्जुन कुमार चौधरी, फूल कुमारी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran