समस्तीपुर । मोहिउद्दीननगर में आवास सहायक द्वारा मुखिया के साथ मारपीट करने और पिस्टल के बल पर रंगदारी मांगने का मामला यूटर्न ले लिया है। मामला तेतारपुर पंचायत का है। मामले में दिनभर पुलिसिया जांच पड़ताल के बीच हाई वोल्टेज ड्रामा चलता रहा। लोगों की भीड़ थाना परिसर में जुटी रही।

जानकारी के अनुसार मुखिया मुनचुन पासवान ने सोमवार की देर संध्या थानाध्यक्ष को यह सूचना दी थी कि आवास सहायक लवलेश कुमार पिस्टल लेकर उनके साथ मारपीट कर रहा है। सूचना पर पहुंची पुलिस नें घटना स्थल से एक पिस्टल और दो जिदा कारतूस बरामद किया। वहीं आवास सहायक को हिरासत में ले लिया। फिर मुखिया के द्वारा दिए आवेदन में आवास सहायक पर आरोप लगाया गया कि सोमवार की संध्या पिस्तौल के बल पर उनके साथ मारपीट की गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएसपी विजय कुमार के द्वारा अनुसंधान शुरू होते ही पूरे मामले की परत खुलने लगी। डीएसपी ने बताया कि अत्याधुनिक तरीके से की गई जांच- पड़ताल में यह पाया गया कि मुखिया के द्वारा जिस जगह को घटनास्थल बताया गया है वहां आवास सहायक गया ही नहीं है। डीएसपी ने बताया कि जांच पड़ताल के क्रम में कई बातें सामने आई है। जिससे प्रतीत होता है कि आवास सहायक निर्दोष है। अब पुलिस को जो पिस्तौल और गोली मुखिया समर्थक के द्वारा दी गई है, उसकी पड़ताल की जा रही है। डीएसपी ने यह भी बताया कि संपूर्ण मामला ही संदेहास्पद और बनावटी दिख रहा है। सच्चाई तक पुलिस पहुंच चुकी है। अब असली दोषी के विरुद्ध पुलिस आगे की जांच में जुटी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस