समस्तीपुर। वारिसनगर थाना क्षेत्र के बल्लीपुर गांव स्थित एक घर में 24 जून को हुई चोरी की घटना में ग्रामीणों ने तीन चोर को चोरी के सामान के साथ पकड़कर पुलिस के हवाले किया है। बताते चले कि उक्त गांव निवासी सुनील सिंह 24 जून की रात्रि 1 बजे बारात से आकर अपने घर के दरवाजे पर सो गए थे। वहीं रात के दो बजे पीछे से सीढी लगाकर उनके घर में चोरों ने घुसकर 55 हजार रुपए नकद व 9-10 लाख रुपए के जेवरातों की चोरी कर ली थी। इस संबंध उनके आवेदन पर थाना में एक प्राथमिकी भी दर्ज की गई थी। वहीं उसके बाद के एक हफ्ते में डरसुर, बल्लीपुर में लगभग 6-7 घरों में चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दे दिया। साथ हीं सभी चोरी को किसी परिचित व्यक्ति के द्वारा अंजाम देने की बात सामने आने पर ग्रामीण सकते में आ गए। स्वयं हीं इधर-उधर तहकीकात शुरू कर दी। इस दौरान डरसुर गांव के ही राजन सिंह के भांजा मनीष कुमार सिंह को शुक्रवार की दोपहर पकड़कर पूछताछ की तो उसने बताया कि धीरेन्द्र सिंह का लड़का हर्ष कुमार सिंह उर्फ बजरंगी टेंट हाउस में काम करता है। टेंट लगाने के क्रम में दूसरे के घर के अंदर का पता लगा लेता था और डरसुर निवासी मोती सिंह का लड़का अमन सिंह के साथ तीनों मिलकर चोरी करते थे। जबकि चोरी में मिले रुपए को तीनों साथी मिलकर बांट लेते थे। वहीं सुनील सिंह के यहां से चोरी किया गया गहना और मोबाइल बिकने पर आपस में बांटने की बात कही। मनीष के द्वारा दी गई जानकारी पर बजरंगी और अमन को पकड़ा गया तो बजरंगी के घर से चोरी का कुछ गहना और दो मोबाइल भी बरामद हुआ। तीनों को पकड़कर पुलिस को सूचित किया गया। इस सूचना थानाध्यक्ष संतोष कुमार वहां पहुंचकर तीनों को गिरफ्तार कर थाना लाकर पूछताछ की तो उन्होंने बल्लीपुर चोरी कांड में संलिप्तता की बातें स्वीकार की। पुलिस ने तीनों को न्यायिक हिरासत मे जेल भेज दिया है।

Edited By: Jagran